वोहरा ने कहा कि विभाजनकारी एवं टकराव वाला रुख कभी किसी भी समस्या का समाधान नहीं कर सकता है.

श्रीनगरः जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल एनएन वोहरा ने आज कहा कि राज्य की समस्याओं का हल केवल बातचीत एवं चर्चा के जरिए ही हो सकता है और इससे इतर किसी भी तरह के प्रयास से इसका निपटारा नहीं हो सकता. ‘शेर-ए-कश्मीर क्रिक्रेट स्टेडियम’ में आज 72वें स्वतंत्रता दिवस के समारोह के संबोधन में उन्होंने यह बात कही. वोहरा 10 वर्ष से जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल हैं. उन्होंने कहा, ‘‘संदेह, भय और अविश्वास के बढ़ते माहौल से राज्य को बाहर निकालना सभी हितधारकों के लिए महत्वपूर्ण है.

 

जम्‍मू-कश्‍मीर: राज्‍य में लगातार 6 साल तक रहा है गवर्नर शासन

 

निरंतर प्रयासों से हल हो सकती है समस्याएं

उन्होंने आगे कहा कि ''उनकी राजनीतिक या धार्मिक विचारधारा चाहे जो भी हो, उनके साथ आने और यह स्वीकार करने का साहस जरूरी है कि हमारी समस्याओं को केवल बातचीत एवं चर्चा के जरिए और सुलह तथा सांप्रदायिक सद्भाव को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयासों को जारी रख ही हल किया जा सकता है.'' वोहरा ने कहा कि विभाजनकारी एवं टकराव वाला रुख कभी किसी भी समस्या का समाधान नहीं कर सकता है.