अहमदाबाद। पाकिस्तान के रास्ते 300 करोड़ के ड्रग्स (हेरोइन) की खेप भारत के अलग-अलग हिस्सों में भेजी गई थी। गुजरात एटीएस ने एक ड्रग तस्कर को हिरासत में लेने के बाद पूछताछ में एक बड़ा खुलासा किया है कि गुजरात एटीएस ने देवभूमि द्वारिका से एक शख्स अजीज अब्दुल को 5 किलो हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया है। जिसकी कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में तकरीबन 15 करोड़ बताई जा रही है। वहीं पूछताछ के दौरान  हेरोइन तस्कर ने बड़ा खुलासा किया है कि गुजरात के समुद्री रास्ते से 300 करोड़ से ज्यादा कीमत का ड्रग्स चार महीने पहले भारत आया था जिसकी एजेंसियों को भनक तक नहीं लगी। स्वतंत्रता दिवस से ठीक पहले अजीज अब्दुल ने पूछताछ के दौरान यब बड़ा खुलासा चौकाने वाला है कि मादक पदार्थों की एक बहुत बड़ी खेप चार माह पहले पाकिस्तान से गुजरात के समुद्री तट पर लाया गया था। जिसकी कीमत 300 करोड़ है। इतनी बड़ी खेप में से अजीज अब्दुल के पास से बरामद की गई 5 किलो हेरोइन बहुत छोटा हिस्सा है। जबकि 95 किलो ड्रग्स देश के अलग-अलग हिस्सों में पहुंचाया जा चुका है। जिसकी सुरक्षा एजेंसियों को भनक तक नहीं लगी।

अजीज ने यह भी खुलासा किया है कि उसने आरिफ आदम सुमरा नाम के शख्स के साथ मिलकर हेरोइन की यह खेप पाकिस्तान से मांडवी मंगवाया था। माना जाता है कि ड्रग्स की सप्लाई पाकिस्तान के आतंकी संगठनों के फंड इकट्ठा करने का सबसे बड़ा माध्यम है। जिसका इस्तेमाल विभिन्न आतंकी गतिविधियों में किया जाता है। गुजरात एटीएस सूत्रों का दावा है कि इस गिरफ्तारी से मिली लीड के आधार पर जल्द ही इस रैकेट की आगे की कड़ियों का खुलासा किया जाएगा।