मुंबई के गोवंडी इलाके के संजय नगर उर्दू स्कूल में पेट के कीड़े मारने की दवा से 180 बच्‍चे बीमार हो गए. बच्‍चों की हालत बिगड़ती देख, उन्‍हें तुरंत निकट के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया जहां उपचार के दौरान एक बच्‍चे की मौत हो गई. मामले की सूचना पाकर मौके पर पहुंचे डीसीपी शहाजी उमाप ने कहा कि मामला दर्ज कर लिया गया है और जांच की जा रही है.


जानकारी के अनुसार मुंबई के गोवंडी इलाके के संजय नगर उर्दू स्कूल में पिछले दो दिनों से बच्‍चों को पेट के कीड़े मारने वाली दवा दी जा रही थी. ये स्‍कूल मुंबई महानगरपालिका का है, जिसमें मनपा के हेल्थ विभाग की तरफ से बच्‍चों को ये दवा दी जा रही थी.


बताया जाता है कि दवा खाने के बाद से ही बच्‍चों ने पेट दर्द और उल्टी की शिकायत की. बच्चों की तबीयत बिगड़ती देख उन्‍हें इलाज के लिए तुरंत निकट के अस्‍पताल में भर्ती कराया गया, जहां उपचार के दौरान एक बच्‍चे की मौत हो गई.


प्राथमिक रिपोर्ट के अनुसार दवा एक्सपायरी डेट की हो सकती है, जिससे उसका गलत असर हुआ है. डीसीपी शहाजी उमाप ने बताया कि इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. दवाइयों को जब्त कर लिया गया है.