जबलपुर|  स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज होने जा रही अक्षय कुमार स्टारर फिल्म 'गोल्ड' पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं| फिल्म के खिलाफ जबलपुर जिला अदालत में एक परिवाद दायर किया गया है| जिसमे फिल्म में भारत के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे का अपमान किए जाने का आरोप लगाया है| 


फिल्म के खिलाफ दमोहनाका निवासी अधिवक्ता अमित साहू ने परिवाद दायर किया है| उनका कहना है कि फिल्म में देश के राष्ट्रध्वज तिरंगा को कोर्ट की जेब में अपमानजनक तरीके से मोड़ कर रखते हुए दिखाया गया है। गौरतलब है कि हाल ही में गोल्ड का अधिकारिक ट्रेलर व टीजर जारी किया गया है। फिल्म जल्द ही रिलीज की जा रही है। फिल्म के टीज़र में अभिनेता अक्षय कुमार तिरंगे झण्डे को रखने के कोड ऑफ कंडक्ट का उल्लंघन करते नज़र आ रहे हैं जबकि फिल्म में तिरंगे की बजाए ब्रिटेन के झण्डे को प्राथमिकता से दिखाया गया है.|  केस दायर करने वाले वकील ने मामले में फिल्म के निर्माता,निर्देशक और हीरो अक्षय कुमार के खिलाफ राष्ट्र ध्वज के अपमान की कार्यवाई करने की मांग की है| फिलहाल जबलपुर जिला अदालत ने मामले बुधवार को तय की है| 


स्वतंत्रता दिवस पर रिलीज़ होने वाली तीसरी फिल्म 


अक्षय कुमार स्टारर फिल्म गोल्ड 15 अगस्त को रिलीज होने जा रही है। 15 अगस्त को रिलीज होने वाली यह अक्षय कुमार की लगातार तीसरी फिल्म है। इससे पहले रूस्तम और टॉयलेट एक प्रेम कथा रिलीज हुई थी दोनों ही फिल्मों को दर्शकों ने खूब सराहा था| अब स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रिलीज होने जा रही फिल्म गोल्ड का भी लोगों को बेसब्री से इन्तजार है| फिल्म में 1948 में हॉकी में पहला गोल्ड जीतने की कहानी दिखाई गई है| 


1948 में हॉकी का पहला 'गोल्ड' जीतने की कहानी


अक्षय कुमार की 'गोल्ड' सच्ची घटना पर आधारित फिल्म है। साल 1948 में हॉकी का पहला 'गोल्ड' जीतने की कहानी को दिखाया गया है। इसी फिल्म से टीवी एक्ट्रेस मौनी रॉय भी बॉलीवुड डेब्यू कर रही हैं। अक्षय कुमार की 'गोल्ड' सच्ची घटना पर आधारित फिल्म है। साल 1948 में हॉकी का पहला 'गोल्ड' जीतने की कहानी को दिखाया गया है। इसी फिल्म से टीवी एक्ट्रेस मौनी रॉय भी बॉलीवुड डेब्यू कर रही हैं।