नई दिल्ली जॉन अब्राहम की अपकमिंग फिल्म 'सत्यमेव जयते' के ट्रेलर में मुहर्रम के जुलूस में मातम के दौरान हत्या का सीन दिखाये जाने के विरोध में शिकायतकर्ता शहंशाह हुसैन ने सोमवार को एसीजे सेकेंड कोर्ट में जॉन अब्राहम, डायरेक्टर मिलाप मिलन जावेरी और तीन अन्य निर्माताओं के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। शिकायत में कहा गया है कि इस सीन से उनकी धार्मिक भावनाएं आहत हुईं हैं। फिल्म का ट्रेलर 28 जून को रिलीज हुआ था।

क्या है इस सीन में... 

जॉन अब्राहम की आने वाली फिल्म सत्यमेव जयते एक सोशल ड्रामा है। जिसमें जॉन का किरदार बुरे लोगों को सजा देने के लिए कानून अपने हाथ में लेता है और खुद गुनाहगारों को सजा देता है। ट्रेलर के इस सीन में भी जॉन पहले तो मुहर्रम के जुलूस में शामिल दिखते हैं फिर एक आदमी की हत्या करते नजर आते हैं जो मुजरिम है।


जरूरत नहीं थी इस सीन की...

शिकायतकर्ता के वकील हिमांशु श्रीवास्तव ने तर्क दिया है कि ये फिल्म भ्रष्टाचार पर आधारित है। इसमें मुहर्रम के जुलूस और मातम के दौरान एक्टर द्वाराहत्या के सीन की जरूरत ही नहीं है। कोर्ट ने मामले को बतौर परिवाद दर्ज कर शिकायतकर्ता और गवाहों को बयान के लिए तलब किया। ('रईस' के इस सीन पर हुआ था विवाद)