जगरेब। इंग्लैंड के खिलाफ फीफा विश्व कप सेमीफाइनल में जीत के साथ फाइनल में पहुंची क्रोएशियाई टीम के प्रशंसकों ने अपनी गाड़ियों के हॉर्न बजाकर और आतिशबाजी के साथ इस बड़ी कामयाबी का जश्न मनाया।


क्रोएशियाई प्रशंसक मैदान पर तो अधिक नहीं थे लेकिन इस चौंकाने वाले परिणाम के बाद पूरा क्रोएशिया जश्न में डूब गया। अधिकतर प्रशंसकों ने सड़कों पर उतरकर अपनी गाड़ियों के हॉन बजाए जिससे हर तरफ कान फाड़ देने वाला शोर सुनाई दिया। सड़कों पर जमकर पर आतिशबाजी भी की गई।


41 वर्षीय एक प्रशंसक इवान केसरिन ने कहा, "हमें इसकी उम्मीद थी और अपनी टीम पर भरोसा था। फाइनल में पहुंचने के अहसास की तुलना किसी से नहीं की जा सकती है।" करीब 40 लाख की आबादी वाले देश में कैफे और चौराहों पर लगी बड़ी स्क्रीन पर लोगों ने मैच देखा और टीम के जीतने के साथ ही सभी जश्न में डूब गए। क्रोएशिया की राजधानी जगरेब में सेंट्रल स्क्वायर पर करीब 10 हजार लोग एकत्रित हुए। यहां बारिश के बावजूद लोगों ने मैच देखा।


पहले गोल के साथ ही सभी लोग चिल्लाते और अपने झंडे को फहराने लगते। टीम के दूसरे विजयी गोल के साथ ही हर शहर और नगर में लोग जश्न में डूब गए। समुद्र के निकट शहर स्पिल्ट में प्रशंसकों ने अपने झंडे से मिलते जुलते रंग के कपड़े पहने। सड़कों पर उतरी गाड़ियों पर भी झंडे लगे थे। मैच में क्रोएशिया के गोल के साथ ही खिड़कियों और कैफे की छतों से चिल्लाने की आवाजें आने लगीं और आखिरी घोषणा के साथ आतिशबाजी शुरू हो गई।


मास्को में भी मौजूद क्रोएशियाई प्रशंसकों ने जीत का जश्न मनाया। रूस में मैच देखने पहुंचे एक प्रशंसक सिनसिया पावलेक ने कहा, "हमें इस जीत की उम्मीद नहीं थी इसलिए हम तो पहले ही जाने की सोच रहे थे लेकिन अब हम फाइनल तक रुकेंगे।"