रायपुर। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने महिला वोटरों को साधने का काम शुरू कर दिया है। लोकसभा चुनाव से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चाय पर चर्चा की तर्ज पर अब भाजपा महिला मोर्चा उज्ज्वला की चाय-रसोई अभियान शुरू करने जा रही है। भाजपा महिला मोर्चा इसकी शुरुआत बस्तर से करेगी।


इस अभियान में उज्ज्वला योजना में जिन महिलाओं को गैस कनेक्शन मिला है, महिला मोर्चा की पदाधिकारी उनकी रसोई में जाएंगी और केंद्र-राज्य की योजनाओं के बारे में बात करेंगी। यही नहीं, गांव, मोहल्ले और सोसाइटी में उज्ज्वला की चाय नाम से अभियान चलाया जाएगा। इसमें महिलाओं को एक स्थान पर एकत्र करके मोदी का मंत्र दिया जाएगा।


भाजपा महिला मोर्चा की राष्ट्रीय अध्यक्ष विजय राहटकर तीन दिन के छत्तीसगढ़ दौरे पर आईं और महिला मोर्चा को बूथ स्तर पर मजबूत करने पर मंथन किया। राहटकर धमतरी, कांकेर और कोंडागांव गईं और बूथ स्तर पर महिला सम्मेलन का खाका तैयार किया।


महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष पूजा विधानी ने बताया कि हर लोकसभा में एक-एक लाख महिलाओं का सम्मेलन होगा। इसके साथ ही उज्ज्वला की रसोई और उज्ज्वला की चाय अभियान भी चलाया जाएगा। विजया राहटकर ने इन सभी अभियानों की समीक्षा भी की और अन्य प्रदेशों में चल रही योजनाओं के बारे में भी बताया।


महिला मोर्चा के आला पदाधिकारियों ने बताया कि हर बूथ पर दस महिला मोर्चा कार्यकर्ता को तैनात किया जाएगा। प्रदेश के 50 फीसदी बूथों पर यह सूची तैयार कर ली गई है। अब इन कार्यकर्ताओं का बूथ स्तर पर सम्मेलन होगा। महिला मोर्चा पीएम नरेंद्र मोदी और रमन सिंह की योजनाओं को लेकर जनता के बीच जाएगी। भाजपा सरकार को जनता समर्थन दे रही है।