भोपाल। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने छेड़छाड़ के आरोप में फंसे मध्य प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नर्मदा प्रसाद अहिरवार की छुट्टी कर दी है। उनकी जगह प्रदीप अहिरवार को कमान सौंपी गई है। बसपा प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक में मप्र प्रभारी रामअचल राजभर ने यह एलान किया। उन्होंने बसपा नेताओं से कहा कि जमानत होने तक नर्मदा प्रसाद से दूरी बनाकर रखें। कार्यकारिणी की बैठक में प्रदेश प्रभारी राजभर ने कांग्रेस और भाजपा दोनों पर निशाना साधा।


साथ ही आरोप लगाया कि गरीब और दलितों का दोनों ही दलों की सरकार में भला नहीं हुआ। राजभर ने विशेष चर्चा में बताया कि पार्टी किसी से गठबंधन नहीं करेगी। हम सभी सीटों पर पूरी दमदारी से लड़ेंगे।


हथियाएंगे सत्ता की चाबी : उन्होंने कहा कि अभी मप्र में बसपा के चार विधायक हैं। 2018 के चुनाव में यह संख्या कम से कम 20 तक पहुंचाना जरूरी है, तभी सत्ता की राजनीतिक चाबी हमारे हाथ में होगी। वे बोले कि चार साल में सरकार ने कुछ नहीं किया। अब चुनाव के समय वोट हथियाने आएंगे। किसी भी प्रलोभन में न आएं।