बैंकॉक। थाईलैंड की लुआंग गुफा में 16 दिन से फंसे 12 में से छह बच्चों को बचाव दल ने रविवार को सुरक्षित बाहर निकाल लिया। इन बच्चों को हेलीकॉप्टर से चियांग राई प्रांत के अस्पताल में ले जाया गया है। अभी भी कोच समेत छह बच्चे गुफा में ही हैं। इन्हें सोमवार को निकाला जाएगा। बचाव दल ने पहले सबसे कमजोर छह लड़कों को बचाया। इनमें से एक बच्चे की हालत पर बारिकी से नजर रखी जा रही है। इससे पहले बचाव दल ने ज्यादा जलस्तर बढ़ने के खतरे को देखते हुए भारतीय समयानुसार सुबह 8:30 बजे बच्चों को बाहर निकालने का जोखिम भरा मिशन शुरू किया।

 

बचाव दल में 13 अंतरराष्ट्रीय गोताखोर और थाईलैंड नेवी सील के पांच अफसर शामिल हैं। बचाव दल इन बच्चों को पानी से भरे संकरे रास्तों और लगभग अंधेरी गुफा से अलग-अलग समूह में निकाल रहा है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल कोंगचीप तंत्रावानित ने बताया कि डॉक्टरों ने शनिवार को बच्चों की जांच की और फैसला किया कि सबसे कमजोर बच्चे को सबसे पहले निकाला जाएगा। 


2.8 करोड़ लीटर पानी निकाला : 

बचाव कार्य में शामिल थाईलैंड की नेवी सील ने कहा कि गुफा में पानी का स्तर पहले से काफी कम हुआ है। अब तक गुफा से 12.8 करोड़ लीटर पानी बाहर निकाला जा चुका है। बीते कुछ दिनों से पानी निकालने के लिए लगातार 24 घंटे इंजन चल रहे हैं। 


इसलिए निकालने का फैसला लिया :

- शनिवार को हुई बारिश के बाद ये चिंता बढ़ गई थी कि गुफा में दोबारा पानी का स्तर फिर बढ़ सकता है

- अभी गुफा में पानी कम है, बारिश भी औसतन कम हो रही है और बच्चों की सेहत पहले से बेहतर है

- इन परिस्थितियों को देखते हुए फैसला हुआ कि बच्चों को निकालने के लिए यही सबसे अच्छा मौका है


ऐसी है गुफा की स्थिति :

- गुफा के 4 किलोमीटर अंदर और पहाड़ की चोटी से एक किलोमीटर नीचे बच्चों का समूह फंसा है

- इन बच्चों के लिए खाना, पानी, दवाइयां और ऑक्सीजन पहले ही पहुंचाई जा चुकी हैं

- लेकिन जिस चैंबर में ये बच्चे बैठे हुए हैं, उसके पास पानी का बहाव बहुत ज्यादा है

- यह इतना खतरनाक है कि शुक्रवार को सामान पहुंचाने गए एक गोताखोर की मौत हो गई थी 


-9 दिन बाद दो ब्रिटिश गोताखोरों ने खोजा :

-23 जून की शाम फुटबॉल का अभ्यास करने के बाद ये बच्चे गुफा देखने गए थे

-11 से 16 साल के 12 बच्चों के साथ इनके 25 वर्षीय फुटबॉल कोच भी साथ में थे

-12 बच्चों समेत कोच भारी बारिश के चलते इस गुफा में फंस गए थे  

-बच्चों और कोच ने गुफा के भीतर ऐसी जगह तलाश ली थी जहां पानी नहीं था

-9 दिन बाद दो ब्रिटिश गोताखोरों रिचर्ड स्टैंटन और जान वोलाथेनने इन बच्चों को खोजा

-10316 मीटर लंबाई है लगभग थाईलैंड की थाम लुआंग गुफा की