कंसास । अमेरिका के कंसास शहर में एक रेस्त्रां में हुई गोलीबारी में एक भारतीय छात्र की मौत हो गई। तेलंगाना के वारंगल का रहने वाला 24 वर्षीय छात्र शरत कप्पू यहां की मिसूरी यूनिवर्सिटी में पढ़ता था। रिपोर्ट के मुताबिक कंसास पुलिस को शुक्रवार शाम सात बजे एक रेस्त्रां में गोलीबारी की सूचना मिली थी। इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर खून से लथपथ शरत को एक पूल में गिरा पाया। आनन.फानन में युवक को करीब के अस्पताल ले जाया गयाए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। शरत के शरीर पर गोलियों के निशान भी मिले हैं। पुलिस मामले की जांच में जुटी है लेकिन अभी तक इस मामले में किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हुई है। 
चश्मदीदों के मुताबिक उन्होंने रेस्त्रां से गोलियां चलने की आवाज सुनी थी। अमेरिका के अलग अलग जगहों पर बीते कई सालों से भारतीयों पर हमला होता आ रहा है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण अमेरिका में गन कल्चर का है। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान भी गन कल्चर को मुद्दा बनाया गया था। लेकिन इस पर अभी तक कोई बड़ा फैसला नहीं आया है। बीते दिनों भी मिसिसिपीए कंसास और शिकागो में भारतीय नागरिकों पर हमलों की खबरें आईं थी। दिसंबर 2017 में मिसिसिपी में 21 साल के संदीप सिंह को उसके घर के बाहर गोली मार दी गई थी। संदीप सिंह पंजाब के जालंधर के रहने वाले थे। अमेरिकी संसद को संबोधित करते हुये डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि अमेरिका में इस तरह की हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है। हर एक नागरिक या अतिथि को सुरक्षा मुहैया कराना अमेरिकी प्रशासन की जिम्मेदारी है।