रायपुर। गुढ़ियारी स्थित तिलक भारती स्कूल के योग छात्र इन दिनों लगातार शानदार प्रदर्शन से न केवल स्कूल का, बल्कि प्रदेश का नाम भी देश-विदेश में रोशन कर रहे हैं। हॉल ही में रायपुर जिला स्तरीय योग स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में इन्होंने तीन स्वर्ण, तीन कांस्य और एक रजत पदक हासिल कर अपना नाम 15 जुलाई को होने वाली चतुर्थ छत्तीसगढ़ राज्य स्तरीय योग स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में दर्ज करा लिया है।


इस प्रतियोगिता में 18 छात्र शामिल हुए थे। योग टीचर नुरेंद्र कुम्हार बताते हैं कि इन बच्चों के अंदर योग के प्रति अलग ही लगाव नजर आता है। योग करने के लिए ये हमेशा तैयार रहते हैं। नुरेंद्र इन बच्चों को रोज दो घंटे योग का प्रशिक्षण देते हैं। इसकी वजह से इन छात्रों के शरीर में काफी लचीला पन आ चुका है। इनकी बाडी ऐसी हो गई है कि ये किसी भी तरह के आसान को हंसते-खेलते कर लेते हैं।


माता-पिता को देते हैं योग प्रशिक्षण


हाल ही में कांस्य पदक हासिल करने वाले गुढ़ियारी के प्रभाकर सिंह कक्षा आठवीं के छात्र हैं। प्रभाकर बताते हैं कि योग इस समय और भविष्य में उनके जीवन का प्रमुख हिस्सा होगा। उनकी पिता का मोटापा काफी बढ़ा गया था इसकी वजह से वो काफी परेशान रहने लगे थे। जब से प्रभाकर अपने मम्मी और पापा दोनों को योग सिखा रहे हैं, तब से दोनों लोग बिल्कुल फिट हैं।


योग से करूंगा मरीजों का इलाज


रायपुर जिला स्तरीय योग स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में गोल्ड हासिल करने वाले मोहित साहू बताते हैं कि वो दिन आज भी उन्हें याद है, जब पहली बार उन्होंने योग किया था और बहुत लोग उन्हें देखकर हंसे थे। उस चीज से प्ररित होकर आज मोहित दिनो-दिनो गोल्ड मेडल जीत रहे हैं। भविष्य में वो डॉक्टर बनना चाहते हैं और योग के साथ मरीजों का इलाज करेंगे।


दो स्वर्ण और एक कांस्य पदक कर चुके हासिल


अंडर 14 ब्वॉय ग्रूप में रायपु जिला स्तरीय योग स्पोर्ट्स प्रतियोगिता में स्वार्ण पदक हासिल करने वाले तनिष्क चंदेल का कहना है कि हर व्यक्ति के अपने जीवन में योग अपनाना चाहिए। नेपाल तक अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन कर चुके तनिष्क इन दिनों अपने माता-माता-पिता और आसपास के लोगों को योग प्रशिक्षण दे रहे हैं।