इंदौर,  मध्य प्रदेश के मंदसौर में मासूम के साथ हुई बर्बरता का एक तरफ जहां पूरे देश में विरोध हो रहा है और आरोपियों को सख्त से सख्त सजा की मांग की जा रही है. वहीं, दूसरी तरफ इस घटना पर राज्य के एक बीजेपी विधायक की शर्मनाक राजनीति का नमूना भी सामने आया है.

शुक्रवार को जब मंदसौर में सात साल की बच्ची से रेप की घटना के विरोध में सड़क पर जनाक्रोश नजर आ रहा था, तब बीजेपी के क्षेत्रीय सांसद सुधीर गुप्ता पीड़ित बच्ची की तबीयत का जायजा लेने इंदौर के एमवाय (MY) अस्पताल पहुंच गए. अस्पताल में बच्ची का परिवार भी मौजूद था. सांसद ने डॉक्टरों से बच्ची की तबीयत पूछने के बाद उसके मां-बाप से भी मुलाकात की.

अस्पताल में इस दौरान सांसद सुधीर गुप्ता के साथ इंदौर से बीजेपी विधायक सुदर्शन गुप्ता भी मौजूद थे. एक तरफ जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान फास्ट ट्रैक कोर्ट के जरिए बच्ची को इंसाफ के दावे कर रहे थे, वहीं अस्पताल जाकर बच्ची का हाल-चाल जानने पर शिवराज सिंह के विधायक को राजनीति सूझ रही थी.


आरोप है कि बीजेपी सांसद ने जब पीड़ित परिवार से मुलाकात की तो विधायक सुदर्शन गुप्ता ने इसके लिए उनसे हर्जाने के रूप में धन्यवाद मांग लिया. सुदर्शन गुप्ता ने बच्ची के माता-पिता से कहा कि वे मंदसौर के सांसद महोदय का धन्यवाद करें, क्योंकि वह उनसे मिलने अस्पताल तक आए हैं.


इस पर बच्ची के माता-पिता ने सांसद सुधीर गुप्ता के सामने हाथ जोड़ लिए.  विधायक सुदर्शन गुप्ता ने कहा, 'सांसद जी को धन्यवाद बोलिए, स्पेशल आपके लिए आए हैं.'

मंदसौर में सात साल की एक बच्ची को स्कूल के बाद अगवा कर लिया गया था. जिसके बाद उससे बर्बरता की गई और रेप की वारदात को अंजाम दिया गया. बच्ची के इस कदर वहशी बर्ताव किया गया कि वह अस्पताल में मौत और जिंदगी के बीच झूल रही है. देश के हर कोने से इस बच्ची के लिए इंसाफ की आवाज उठ रही है और इलाके के बीजेपी सांसद और विधायक बच्ची का हाल-चाल जानने पर भी मां-बाप से धन्यवाद कहलवाने से नहीं चूक रहे हैं. बता दें कि पुलिस ने मामले के आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है.