नई दिल्ली। वित्त वर्ष 2017-18 के दौरान दुबई-मुंबई एयर सेक्टर व्यस्ततम अंतरराष्ट्रीय हवाई रूट रहा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, इस रूट पर 25 लाख यात्रियों ने सफर किया। भारत शहरों को अंतरराष्ट्रीय गंतव्यों से जोड़ने वाले टॉप 10 रूट की सूची में दुबई-मुंबई को सबसे ऊपर रखा गया। इनमें घरेलू और विदेशी सभी एयरलाइंस की उड़ान शामिल हैं।


दूसरे स्थान पर दुबई-दिल्ली रूट रहा। इस रूट पर बीते वित्त वर्ष के दौरान करीब 20 लाख यात्रियों ने सफर किया। 10 लाख से कुछ अधिक यात्रियों के साथ दुबई-कोच्चि रूट तीसरे स्थान पर रहा। बैंकॉक जाने वाले यात्रियों की तादाद भी बढ़ी है।


करीब 10 लाख यात्रियों के साथ दिल्ली-बैंकॉक रूट सूची में चौथे स्थान पर रहा। पांचवें और छठे स्थान पर क्रमशः दुबई-हैदराबाद और लंदन-दिल्ली रूट रहे। आंकड़ों के मुताबिक, लंदन-मुंबई, दुबई-चेन्नई, सिंगापुर-चेन्नई और कोलंबो-चेन्नई रूट भी क्रमशः सूची में शामिल रहे।


भारत के विभिन्न शहरों से अंतरराष्ट्रीय उड़ान भरने के मामले में सबसे ज्यादा यात्री दुबई गए। आंकड़ों के मुताबिक, इनमें से करीब आधे यात्रियों का गंतव्य दुबई रहा। इनमें प्रवासी कामगारों और अन्य कारोबारियों की बड़ी संख्या रही। डोमेस्टिक सेक्टर में मुंबई-दिल्ली को एशिया प्रशांत क्षेत्र में व्यस्ततम रूट पाया गया।


पिछले वित्त वर्ष के दौरान इस रूट पर 70 लाख लोगों ने सफर किया। 40 लाख से अधिक यात्रियों के साथ बेंगलुरु-दिल्ली दूसरे और 40 लाख से कुछ कम यात्रियों के साथ बेंगलुरु-मुंबई रूट तीसरे स्थान पर रहा।