कडप्पा (आंध्रप्रदेश): आंध्र प्रदेश पुनर्गठन अधिनियम , 2014 के प्रावधानों के तहत जिले में केंद्र द्वारा तत्काल एकीकृत स्टील संयंत्र की स्थापना की मांग को लेकर तेलगु देशम पार्टी (तेदेपा) के सांसद सी एम रमेश ने बुधवार को एक राज्य विधान पार्षद के साथ मिलकर अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू की।

पार्टी के राज्यसभा सदस्य ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे एक पत्र में कहा था कि अगर संयंत्र को तत्काल स्थापित करने के लिए कदम नहीं उठाए गए तो वह ‘भूख हड़ताल करने के लिए विवश’ होंगे। केंद्र सरकार ने स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एसएआईएल) की व्यवहारिकता रिपोर्ट का हवाला देते हुए उच्चतम न्यायालय को हाल में बताया था कि कडप्पा में स्टील संयंत्र ‘आर्थिक रूप से व्यवहार्य’ नहीं होगा। इसके पांच दिन बाद रमेश ने प्रधानमंत्री को खत लिखा था।

सांसद ने बुधवार को आरोप लगाया कि केंद्र व्यवहार्य न होने की बात कहकर संयंत्र स्थापित करने की राह में रोड़े अटका रहा है। उन्होंने कहा कि जब तक केंद्र उनकी मांग नहीं मान लेता उनका प्रदर्शन जारी रहेगा। आंध्र प्रदेश विधान परिषद के सदस्य एम रवींद्रनाथ रेड्डी भी इस भूख हड़ताल में सांसद के साथ शामिल हुए। दोनों ही नेता कडप्पा जिले से आते हैं।