भोपाल : कांग्रेस के दिवंगत दिग्गज नेता और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन सिंह की पत्नी सरोज कुमारी ने अपने दो बेटों अजय सिंह, अभिमन्यु सिंह और बहू सुनीति सिंह के खिलाफ अदालत में घरेलू हिंसा और संपत्ति पर अवैध रूप से कब्जा करने की शिकायत अर्जी दाखिल की है। आवेदन पर सुनवाई करते हुए भोपाल की अदालत ने दोनों बेटों और और बहू के खिलाफ नोटिस जारी करने के आदेश दिए है। मामले की अगली सुनवाई 19 जुलाई को तय की गई है।

मां सरोज द्वारा बेटों पर लगाए आरोप
सरोज ने भोपाल के न्यायिक मजिस्ट्रेट गौरव प्रज्ञान की अदालत में अपने बेटों अजय और अभिमन्यु पर घरेलू हिंसा करने, घर से बेदखल करने और भरण-पोषण नहीं करने का आरोप लगाया है।

अर्जी में सरोज ने क्या कहा ?
परिवार से अलग नोएडा में रह रही सरोज ने अपनी अर्जी में कहा कि, 'मेरे बेटों अजय सिंह और अभिमन्यु सिंह ने घरेलू हिंसा कर मुझे मेरे ही घर से बेदखल कर दिया है। उन्होंने मेरा भरण-पोषण करने और साथ रखने से इंकार कर दिया है। इस वजह से मुझे मजबूरी में अदालत की शरण लेनी पड़ी है'। सरोज ने आवेदन में लिखा, 'मेरे पति स्वर्गीय अर्जुन सिंह ने जीवनभर कांग्रेस पार्टी में रहकर उसके उन उसूलों पर काम किया, जिनसे महिला संरक्षण हो और असहाय व्यक्तियों को सहयोग मिले, लेकिन मेरे बेटे अजय सिंह ने कांग्रेस पार्टी के उन्हीं उसूलों को ताक में रखकर मुझे मेरे घर से बेदखल कर दिया।

सरोज ने अदालत से लगाई गुहार
सरोज ने अर्जी में कहा कि मैं चाहती हूं कि अदालत मुझे मेरा घर वापस दिलाने, घर में रहने के लिए मदद करे और अजय सिंह को वहां से जाने का आदेश दे। उन्होंने कहा कि मुझे न्याय मिलने का भरोसा है।

क्या कहना है वकील का ?
सरोज के वकील जोशी ने कहा कि मेरे सरोज ने अदालत से यह भी निवेदन किया है कि अदालत इस मामले में बिना दूसरे पक्षकार को सुने निर्णय दें, जिससे की वह जल्द से जल्द अपने निवास 'केरवा महल' में जाकर रह सकें।

बता दें कि अजय सिंह सरोज के छोटे बेटे हैं और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं। अजय वर्तमान में मध्यप्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष हैं और सुनीति उनकी पत्नी हैं। अभिमन्यु सरोज के बड़े बेटे हैं जो बेंगलुरू में रहते हैं।