मेरठ।टीपीनगर की बनवारी वाटिका में पति ने बहन के लिए किडनी मांगी तो महिला ने जहरीला पदार्थ खा लिया, जिससे उसकी मौत हो गई। महिला की मौत के बाद ससुराल पक्ष लाश लेकर गायब हो गया। सूचना के बाद मेरठ पहुंचे महिला के परिजनों ने अस्पताल से लेकर ससुराल तक शव की खोजबीन की, लेकिन लाश नहीं मिली। इस बात को लेकर थाना घेर लिया। पुलिस भी लाश की तलाश कर रही है।


मूल रूप से सरधना के खेड़ा गांव निवासी विकास परिवार के साथ टीपीनगर की बनवारी वाटिका कालोनी में रहता है। चार साल पहले विकास की शादी बागपत के सिंघावली अहीर के गांव खिंदौड़ा गांव निवासी रामनिवास की बेटी अन्नू से हुई थी। अन्नू के अब दो बच्चे शिवांश और माही हैं। परिवार में विकास की बहन गुड्डन पिछले कुछ दिन से बीमार चल रही थी। डाक्टरों ने बताया कि गुड्डन की किडनी खराब हो गई है। ऐसे में विकास अपनी पत्नी पर लगातार दबाव बना रहा था कि वो एक किडनी उसकी बहन को दे। अन्नू इस बात का विरोध कर रही थी। इसी बात को लेकर लगातार पति-पत्नी के बीच विवाद चल रहा था। 


मंगलवार को भी दोनों के बीच झगड़ा हुआ, जिसके बाद अन्नू ने जहरीला पदार्थ खा लिया। उसे बागपत रोड पर अस्पताल लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद विकास के फोन से कॉल करके अन्नू के परिजनों को मौत की सूचना दी गई। मामले की जानकारी पर परिजन मेरठ पहुंचे तो विकास का मकान बंद मिला। पता किया तो सरधना वाले पैतृक आवास पर भी अन्नू की लाश नहीं पहुंची। विकास और परिवार के बाकी लोगों के मोबाइल नंबर भी बंद मिले। परिजनों ने सूरजकुंड और कुछ अन्य जगहों पर पता कराया, लेकिन अन्नू की लाश नहीं मिली। ऐसे में अन्नू के परिजन टीपीनगर थाने पहुंच गए। आरोप लगाया कि किडनी लेने और दहेज के लिए उसकी बेटी की ससुरालियों ने हत्या कर दी है। इसके बाद लाश लेकर फरार हो गए हैं।