लंदन। ब्रिटेन में भारतीय मूल के 28 वर्षीय छात्र पर नस्ली हमला करते हुए एक श्वेत व्यक्ति ने चिल्लाते हुए कहा '' ब्रेग्जिट , गो बैक होम। भारतीय छात्र ने हिजाब पहनी एक महिला पर ब्रिटिश व्यक्ति की टिप्पणी का विरोध किया था जिसके बाद यह घटना हुई। 'कैंब्रिज न्यूज़ की ख़बर के मुताबिक, कैंब्रिज विश्वविद्यालय में राजनीति विज्ञान के छात्र रिकेश आडवाणी ने महिला पर इस व्यक्ति की टिप्पणियों का विरोध किया था। 


आडवाणी ने कहा, ''मैंने जो सुना उससे मैं पूरी तरह नाराज था और मुझे विश्वास नहीं हो सका कि 2018 में लोग ऐसे हो सकते हैं। मैंने सबसे पहले उसे विनम्रता से रोका और मुझे उम्मीद थी कि यह ख़त्म हो जाएगा।'' 

 


बेघर लोगों के लिए चैरिटी चलाने वाले आडवाणी ने कहा, ''उस स्थिति में कोई भी इंसान अपनी गलती स्वीकार करेगा लेकिन वह बेवजह मेरे साथ आक्रामक हो गया।'' उन्होंने बताया कि जब उन्होंने नस्ली और लिंग- भेद वाली टिप्पणियों का विरोध किया तो किसी भी अन्य मरीज ने उनका साथ नहीं दिया और इस बात से वह निराश हैं। 

 


ख़बर में पुलिस के एक प्रवक्ता के हवाले से कहा गया है, ''जांच चल रही है। अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई।''