डिप्रेशन से जूझ चुकी बॉलीवुड एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने हाल ही में अपने 'लिव लव लाफ फाउंडेशन' के जरिए एक पोस्ट इंस्टाग्राम पर शेयर की है, जिसमें उन्होंने डिप्रेशन के बारे में खुलकर बात की हैं। उन्होंने दावा किया है कि केट स्पेड (अमेरिका की फेमस फैशन डिजाइनर) और एंथोनी बौर्डन (मशहूर अमेरिकी शेफ) ने सुसाइड नहीं किया। बल्कि डिप्रेशन ने उनकी जान ली है। 

ऐसे हुई दोनों की मौत...

केट स्पेड अमेरिकन फैशन डिजाइनर थे। 5 जून को 56 साल के केट अपने घर में मृत पाए गए थे और उनके पास से सुसाइड नोट बरामद हुआ था। वहीं, 62 साल के अमेरिकन टीवी पर्सनैलिटी एंथोनी बौर्डन ने 8 जून को अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दे दी थी। कहने को तो ये सुसाइड थे, लेकिन दीपिका के मुताबिक मामला कुछ और ही है। 

हर 40 सेकंड में एक सुसाइड...

दीपिका की पोस्ट के मुताबिक, हर 40 सेकंड में एक शख्स सुसाइड करता है। उन्होंने लिखा है, "पिछले सप्ताह दुनिया के दो चमकते सितारों ने इस बढ़ती महामारी के चलते सुसाइड कर लिया। वे डिप्रेशन में थे। वे अपनी जान नहीं ले सकते थे। बल्कि डिप्रेशन ने उन्हें मार डाला।" दीपिका आगे लिखती हैं, "हम यह नहीं पूछते कि कोई कैसे बीमार पड़ जाता है? क्यों कोई अपने पैर तोड़ लेता है या फिर क्यों किसी का एक्सीडेंट हो जाता है? बाकी बीमारियों की तरह डिप्रेशन को भी नजर अंदाज नहीं किया जा सकता।"

महामारी है डिप्रेशन......

बकौल दीपिका, "आज कि तारीख में डिप्रेशन बढ़ती हुई महामारी है। फिर भी इसके साथ यह कलंक जुड़ा हुआ है कि लोग खुद को मदद मांगने से रोक रहे हैं। किसी को इससे बाहर निकलने के लिए कहना पैर से लाचार इंसान को चलने के लिए कहने जैसा है। हमारा लिव लव लाफ फाउंडेशन उस कॉज के लिए कमिटेड है, जिसके लिए हम खड़े हुए हैं। मेंटल हेल्थ अवेयरनेस के लिए लगातार कैम्पिंग जरूरी है।"


ऐसे हरा सकते हैं डिप्रेशन को...

दीपिका के मुताबिक डिप्रेशन को साथ मिलकर हराया जा सकता है। जब भी आपको अपनी फैमिली, दोस्तों या को-वर्कर्स के बीच कुछ अनुचित लगे तो उनसे यह पूछने में संकोच न करें कि वे ठीक तो हैं। अगर वे नहीं भी बताते हैं तो उन्हें अहसास दिलाएं कि आपको उनकी फ़िक्र है और वे जब भी बताना चाहें, आप तब इसके लिए तैयार होंगे।