नई दिल्ली सोशल मीडिया की लत आजकल कई बार कपल्स के बीच बहस का कारण बन जाती है। कई बार तो पैरेंट्स बच्चों की सोशल मीडिया लत पर हिंसक भी हो जाते हैं। लेकिन इस बार इस लत की वजह से पति पत्‍नी के बीच इतने बड़े विवाद की वजह बना कि इससे दोनों की जान चली गई। घटना कर्नाटक के बेंगलुरू की है जहां 11 जून की रात 28 वर्षीय शख्स अनूप और उसकी 23 वर्षीय पत्नी सौम्या दोनों ने फांसी लगाकर जान दे दी। जवां दंपति ने अपने दो बच्चों के सामने अलग-अलग कमरे में इस खौफनाक काम को अंजाम दिया।



फेसबुक को लेकर कई बार हुआ था झगड़ा-

पुलिस ने बताया कि इससे पहले कई बार दोनों में फेसबुक के ज्यादा इस्तेमाल को लेकर झगड़ा हुआ था। इसी तरह से दोनों के बीच कई बार झगड़ा हुआ था। अनूप ने सौम्या को फेसबुक से दूर रहने की हिदायत दी थी।


इसी प्रकार से 10 जून की रात को भी दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। अनूप ने सौम्या के भाई को रात करीब 11:30 बजे फोन किया और कहा कि वह उसकी बहन के साथ और ज्यादा नहीं जीना चाहता। अनूप ने अपने साले से यह भी कहा कि वह अपनी बहन को यहां से ले जाए। इस पर सौम्या के भाई ने अनूप से गुजारिश की वह कोई बड़ा कदम न उठाए। रविवार को अनूप के साले ने कहा कि वह अपनी बहन से इस मामले पर बात करेगा।


सोमवार को शाम करीब 7:30 बजे सौम्या ने  अपने भाई रविचंद्रन को फोन कर बताया कि उसका अनूप के साथ झगड़ा हो गया है। उसने अपने भाई से गुजारिश की कि वह उसके पास आ जाए। रविचंद्रन अपनी बहन से दूर किसी दूसरे शहर में रहता है। इस पर रविचंद्रन ने बताया कि वह अब घर से निकल चुका है और जल्द ही उनके यहां पहुंचने वाला है।


रविचंद्रन जब अगले दिन सुबह अपनी बहन के घर पहुंचा और दरवाजा खोला तो देखकर सन्न रह गया। दोनों के शव अगल-अलग कमरे में फांसी पर लटके हुए थे। इसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई।


सोशल मीडिया के कारण जान देने की यह पहली घटना नहीं है, बल्कि इससे पहले भी कई ऐसे मामले आ चुके हैं जिनमें सोशल मीडिया एडिक्शन के कारण लोगों की जान गई।