बेंगलुरू। सामाजिक कार्यकर्ता गौरी लंकेश मर्डर केस में एक और संदिग्ध की गिरफ्तारी हुई है। हालांकि, पुलिस ने मंगलवार को उसके हत्यारा होने की बात से इनकार किया है। गौरी लंकेश हत्या की जांच कर रहे कर्नाटक पुलिस के विशेष जांच दल (एसआईटी) ने कहा कि 26 वर्षीय परशुराम वाघमरे को राज्य के विजयपुरा जिले के सिंधागी से गिरफ्तार किया गया है।

 


जारी बयान के मुताबिक, वाघमरे को थर्ड एडिशनल चीफ मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे विस्तृत जांच के लिए 14 दिनों की एसआईटी हिरासत में भेज दिया गया है।


एसआईटी को हेड करनेवाले इंस्पेक्टर जनरल ऑफ पुलिस बीके सिंह ने बताया कि पूछताछ के दौरान ऐसी कोई भी बात निकलकर सामने नहीं आई है जिससे ऐसा लगे कि लंकेश की हत्या में वाघमरे शामिल था। गौरी लंकेश का वाघमरे को हत्यारा बताए जाने की मीडिया में चल रही अटकलों के बीच उन्होंने कहा- “नहीं, जांच में ऐसी कोई चीज सामने नहीं आयी है।” 


गौरी लंकेश मर्डर केस में वाघमरे की छठी गिरफ्तारी की गई है। लंकेश को पिछले साल 5 सितंबर को उनके घर के सामने गोली मारकर हत्या की गई थी। गौरी लंकेश को कट्टर हिन्दुत्व के खिलाफ आलोचक के तौर पर माना जाता था।