सूरजपुर जिले की स्वास्थ्य व्यवस्था पर आए दिन सवाल खड़े होते रहते है. जहां जिले के ग्रामीण अंचलों में कभी मलेरिया तो कभी डायरिया जैसी बीमारी भयावह रुप में सामने आते रहती है और स्वास्थ्य विभाग के लापरवाही उजागर होते रहती है. अब इस बार जिला अस्पताल पर एक्सपायरी डेट की दवा वितरण करने का आरोप लगा है.


बता दें कि सूरजपुर नगर के अग्रसेन वार्ड निवासी काजल सारथी पिछले सप्ताह अपने बच्चे को लेकर इलाज के लिए जिला चिकित्सालय पहुंची थी. महिला को बच्चे की भर्ती कर दवा की पर्ची दी गई. परिजनों का आरोप है कि अस्पताल के काउंटर से एक्सपायरी डेट की दवा दी गई.


परिजनों ने बताया कि इलाज के बाद बच्चे को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया. मामला तब सामने आया जब पड़ोस के एक शख्स ने घर में एक्सपायरी डेट की दवा देखी.


पूरे मामले में बीएमओ आरएस सिंह का कहना है कि जांच के बाद फार्मासिस्ट को नोटिस जारी किया जाएगा.