नई दिल्ली। अगर आप फेसबुक यूजर हैं और सोशल साइट पर ज्यादा एक्टिव रहते हैं तो ये खबर आपको डराने वाली है, जी हां क्योंकि दुनिया की सबसे बड़ी सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक के 14 मिलियन यूजर्स का प्राइवेट डाटा पब्लिक हो गया है। गुरुवार को कंपनी ने इस बात को खुद स्वीकार किया है। कंपनी के मुताबिक किसी सॉफ्टेवेयर में गड़बड़ी के चलते फेसबुक के 14 मिलियन यूजर्स का प्राइवेट डाटा पब्लिक हो गया है। कंपनी ने ऐसा होने पर खेद भी जताया है। 


इस सॉफ्टवेयर बग की वजह से जिन लोगों ने अपना डाटा फ्रेंड्स ओनली भी कर रखा था उनका भी डाटा लीक हुआ है। ये गड़बड़ी 18 मई से 27 मई के बीच हुई है। इस गड़बडी के कारण यूजर्स की प्राइवेसी सेटिंग उन्हें बिना पता चले ही पब्लिक हो गई और ऐसा करीब 14 मिलियन लोगों के साथ हुआ है। कंपनी के प्राइवेसी ऑफिसर ईरिन इग्न ने बयान जारी कर सॉफ्टवेयर में गड़बड़ी का बात सार्वजनिक की है और सभी यूजर्स से माफी मांगी है। ईरिन के मुताबकि कंपनी हर एक यूजर्स का डाटा रिव्यू कर रही है। साथ की कंपनी का कहना है कि इस परेशानी का हल निकाल लिया गया है अब सभी का डाटा सुरक्षित है।

बता दें कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने एपल और माइक्रोसॉफ्ट समेत करीब 60 हैंडसेट निर्माताओं के साथ डाटा साझा करने के लिए भी साझेदारी की है। इन कंपनियों की पहुंच उपयोक्ता और उसके दोस्तों के डाटा तक होगी। न्यूयॉर्क टाइम्स की एक रिपोर्ट में यह दावा किया गया है। उल्लेखनीय है कि कुछ हफ्तों पहले ही 8.7 करोड़ लोगों के निजी डाटा को गलत तरीके से साझा करने पर फेसबुक को तीखी आलोचनाएं झेलनी पड़ी थी, और अब यह रिपोर्ट सामने आयी है।