एक नई स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ है कि पुरुषों की तुलना में महिलाएं खतरनाक और जोखिम भरे सेक्शुअल बिहेवियर को खराब मानती हैं क्योंकि उन्हें इस बात का डर रहता है कि इससे इंफेक्शन या कई तरह की बीमारियां हो सकती हैं। स्टडी में यह भी कहा गया कि महिलाओं की तुलना में औसतन ज्यादा पुरुष वन नाइट स्टैंड या इस तरह के जोखिम भरे सेक्शुअल बिहेवियर में शामिल रहते हैं। 

सर्वे में हुआ खुलासा 

फिलॉस्फिकल ट्रांजैक्शन्स ऑफ द रॉयल सोसायटी के जर्नल में प्रकाशित इस स्टडी में जो सर्वे किया गया था उसमें 2 हजार 500 लोग शामिल थे। अनुसंधानकर्ताओं ने प्रतिभागियों के सामने संभवतः 75 खराब और घिनौने परिदृश्यों को रखा जिनका उन्हें सामना करना पड़ सकता है। इसमें वैसे लोग जिन्हें इंफेक्शन हो, स्किन पर पस से भरा जख्म, छींक आना और खुले में शौच करने जैसी चीजों को शामिल किया गया था। इसमें प्रतिभागियों को हर परिदृश्य के लिए अपने घिन से भरी प्रतिक्रिया को रेट करना था। 


रिऐक्शन्स में दिखा जेंडर डिफरेंस 

जितने भी परिदृश्य प्रतिभागियों को दिए गए थे उसमें पस से भरा घाव सबसे ज्यादा घिनौना साबित हुआ। इसके अलावा हाइजीन का ध्यान न रखना और शरीर से आने वाली दुर्गंध को भी सबसे ज्यादा घिनौना माना गया। साथ ही सर्वे में मिले रिऐक्शन्स में जेंडर डिफरेंस भी दिखा और महिलाओं ने पुरुषों की तुलना में हर कैटिगरी को ज्यादा घिनौना बताया। इस स्टडी में महिलाओं को जो कैटिगरी सबसे ज्यादा घिनौनी लगी वह थी जोखिम भरा सेक्शुअल व्यवहार और बीमारी वाले जानवर।