नई दिल्ली,  जम्मू-कश्मीर में सेना के वाहन पर 'ह्यूमन शील्ड' की तरह बांधे जाने के बाद चर्चा में आए फारुख अहमद दार को लेकर एक दिलचस्प खबर सामने है. दार के हवाले से कश्मीर की एक वेबसाइट ने दावा किया कि पिछले साल बिग बॉस के निर्माताओं में उन्हें रियलिटी गेम शो के लिए ऑफर दिया था. इसके लिए उन्हें 50 लाख रुपये भी मिल रहा था.


रिपोर्ट के मुताबिक दार ने निर्माताओं के प्रपोजल को खारिज कर दिया था. फारुख दार ने 'द विटनेस पोस्ट' नाम की कश्मीरी वेबसाइट से एक इंटरव्यू में कहा, "मुझे बिग बॉस के निर्माताओं ने 50 लाख रुपये ऑफर किया था. मेरा टिकट भी बुक कर लिया गया था."

क्यों ठुकरा दिया बिग बॉस का ऑफर?


दरअसल, अमानवीय तरीके से सेना के वाहन पर बांधे जाने के बाद उन्हें 10 लाख रुपये भरपाई के तौर पर देने की बात सामने आई थी. जुलाई में उन्हें पैसे मिलने वाले थे. इसी वजह से पिछले साल उन्होंने यह शो करने से मना कर दिया था. बता दें कि जम्मू और कश्मीर के मानवाधिकार आयोग ने राज्य सरकार को फारुख को 10 लाख रुपये देने के लिए कहा था, लेकिन राज्य सरकार ने इसे देने से मना कर दिया था.


फारुक ने कहा, "जब मैं अपने घर से अकेले नहीं निकल सकता तो कहीं जानें का सवाल ही पैदा नहीं होता. मुझे हर जगह डर लगता है. मैं इज्जत की जिंदगी जीना चाहता हूं." हालांकि निर्माताओं या ऐसे किसी दूसरे सोर्स से अब तक फारुक को बिग बॉस से ऑफर की आधिकारिक खबर सामने नहीं आई थी. फारुक के दावे इमं कितनी सच्चाई है इस बारे में कुछ भी साफ़-साफ़ नहीं कहा जा सकता.   


बताते चलें कि बिग बॉस का पिछला सीजन शिल्पा शिंदे ने जीता था. रियलिटी शो काफी दिलचस्प था. इसमें हिना खान और शिल्पा आख़िरी दौर तक पहुंचीं थीं. लेकिन बिग बॉस का खिताब शिल्पा को मिला. शो में कई विवाद सामने आए थे और ये काफी दिलचस्प रहा था. फिलहाल बिगबॉस के अगले सीजन की तैयारियां भी शुरू हो चुकी हैं.   

क्या है ह्यूमन शील्ड का मामला ?


आपको बता दें कि 9 अप्रैल 2017 को मेजर नितिन गोगोई ने मिलिट्री की जीप के बोनट पर बांध दिया था. उनका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था. ये मामला अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर गर्म हुआ था. नितिन के खिलाफ शिकायत भी हुई थी. हालांकि बाद में सेना ने गोगोई को क्लीन चिट दे दी थी.