नई दिल्ली। आ‎र्थिक संकट से जूझ रही कंपनी रुचि सोया को खरीदने के लिए पतंजलि आयुर्वेद और अडानी ग्रुप में अब सीधा मुकाबला होने जा रहा है। योग गुरु बाबा रामदेव के अनुसार रुचि सोया को कर्ज देने वाले बैंकों ने अडानी ग्रुप और पतंजलि से दोबारा नीलामी करने के लिए कहा है। बैंकों ने कर्ज में डूबी रुचि सोया के लिए ज्यादा से ज्यादा वैल्युएशन हासिल करने के लिए ऐसा किया है। ऐसे में पतंजलि और अडानी ग्रुप में से किसी एक को ही रुचि सोया मिलेगी। साथ ही दोनों कंपनियों को अपनी बोली में इजाफा करना होगा। बाबा रामदेव के अनुसार कमेटी ऑफ क्रैडिटर्स (सीओसी) ने रुचि सोया के लिए फ्रैश बिड करने को कहा है जिससे उन्हें ज्यादा पैसे मिल सकें।