मध्य प्रदेश की धार्मिक नगरी उज्जैन में भगवान महाकाल की शाही सवारी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के दिन निकलेगी. यह संयोग 11 साल बाद हो रहा है. इससे पहले 2007 में जन्माष्टमी के दिन शाही सवारी निकली थी. इस बार भी तारीख, तिथि और वार का भी संयोग एक समान बन रहा है.


दरअसल, ज्येष्ठ अधिकमास की गणना से यह संयोग बन रहा है. इससे पहले 2007 में 3 सितंबर को सोमवार और भादौ कृष्ण अष्टमी थी. इस बार भी तारीख, तिथि और वार वैसा ही रहेगा.


इस साल 28 जुलाई से श्रावण मास की शुरुआत होगी. और श्रावण-भादौ मास में भगवान महाकाल की छह सवारियां निकलेंगी. 30 जुलाई को श्रावण मास की पहली, 6 अगस्त को दूसरी, 13 अगस्त को तीसरी तथा 20 अगस्त को चौथी सवारी निकलेगी. 27 अगस्त को भादौ मास की पहली और 3 सितंबर को शाही सवारी निकलेगी.

बता दें कि महाकाल मंदिर में श्रावण-भादौ मास में भगवान महाकाल की सवारी निकलने की परंपरा अनादिकाल से चली आ रही है. इस दौरान देश-विदेश से हजारों भक्त भगवान के दर्शन के लिए उमड़ते हैं.