भिंड जिला पुलिस ने सराफा व्यापारी को धमकाने के आरोप में दो बदमाशों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है. मिली जानकारी के अनुसार दोनों आरोपियों ने 20 मई को शहर के एक सराफा व्यापारी को धमका कर तीस लाख रुपये रंगदारी की मांग की थी. सूचना मिलने के बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए 48 घंटे में ही आरोपियों को पकड़कर हवालात के पीछे पहुंचा दिया.


मिली जानकारी के अनुसार सिटी कोतवाली थाना क्षेत्र में स्थित गुप्ता ज्वेलर्स के मालिक अरुण गुप्ता को 20 मई को एक फोन कॉल आया जिसमें उनसे तीस लाख रुपये रंगदारी की मांग की गई. रंगदारी नहीं देने पर अंजाम भुगतने की धमकी भी दी गई. साथ ही इसकी शिकायत थाने में नहीं करने की बात भी कही गई. इस धमकी से डरे सहमे व्यापारी ने हिम्मत कर इसकी सूचना पुलिस को दे दी.


जिले के एसपी रूडोल्फ अल्वारेस ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए तुरंत एक टीम गठित कर आरोपियों का सुराग लगाने का प्रयास शुरू कर दिया. पुलिस को जल्दी ही सफलता मिली और राजीव उर्फ टाटा ओझा और संतोष राठौर नाम के दो आरोपियों को पकड़ कर हवालात पहुंचा दिया. पुलिस अधीक्षक के अनुसार आरोपी जल्दी से पैसा कमाने के लिए जुर्म के रास्ते पर चल पड़े थे. पकड़े गए आरोपियों में से एक आरोपी राजीव बैंक की कियोस्क चलाता है जबकि दूसरा आरोपी शेयर मार्केट में ट्रेडिंग करता है.


बताया जा रहा है कि एक आरोपी का पिता काफी समय पहले गुप्ता ज्वेलर्स में काम करता था. वह घर में चर्चा भी किया करता था कि उसके यहां काफी पैसा है. इसे ही ध्यान में रखते हुए दोनों दोस्तों ने मिलकर गुप्ता ज्वेलर्स से रंगदारी वसूलने की योजना बनाई. लेकिन व्यपारी की पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराने की हिम्मत और पुलिस की तत्परता ने बदमाशों को दबोच लिया.