दक्षिण कोरिया। एशियन चैंपियंस ट्राफी में गत चैंपियन भारतीय महिला हॉकी टीम ने शनिवार को मेजबान दक्षिण कोरिया के साथ 1-1 से ड्रॉ खेला। भारतीय टीम फाइनल में पहुंच गई है और उसका सामना दक्षिण कोरिया से ही होगा।


अनुभवी डिफेंडर सुनीता लाकड़ा के नेतृत्व में पिछले लगातार तीन मुकाबलों में जापान को 4-1 से, चीन को 3-1 से और मलेशिया को 3-2 से मात देने के बाद भारत ने इस मैच में भी अपना अपराजय अभियान जारी रखा। पहला क्वार्टर खाली जाने के बाद मेजबान टीम के लिए चिओन सियोल की ने 20वें मिनट में गोल कर अपनी टीम को 1-0 से आगे कर दिया। इसके बाद तीसरे क्वार्टर में दोनों टीमों में कोई भी गोल करने में सफल नहीं रही।


भारत को इस क्वार्टर में पेनाल्टी कार्नर भी हासिल हुआ, लेकिन टीम उसका फायदा नहीं उठा सकी। चौथे क्वार्टर में भारत के लिए लालसेमसियामी ने पेनाल्टी कार्नर का पूरा फायदा उठाते हुए गोल दागकर 1-1 से बराबरी पर ला दिया। मेजबान के पास 54वें मिनट में पेनाल्टी कार्नर पर गोल करने का मौका था लेकिन भारतीय गोलकीपर सविता ने इसका सफलतापूर्वक बचाव कर लिया और मुकाबला 1-1 से ड्रा रहा।


भारतीय ड्रैग फ्लिकर गुरजीत का यह 50वां अंतरराष्ट्रीय मैच था। भारत अब 20 मई को फाइनल में दक्षिण कोरिया से भिड़ेगा।