हमारे घरों में जिंदगी की जरूरत की लगभग सभी चीजें मौजूद हैं। यहां लालसा की नहीं, जरूरत की बात हो रही है। फिर भी अगर हमारे जीवन से कुछ गायब है तो वह है सुकून की नींद। हमारे समाज में ऐसे लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही है, जिन्हें नींद संबंधी दिक्कतें सता रही हैं। यहां जानें, इस समस्या से निपटने का आसान वास्तु उपाय…

वास्तु शास्त्र में हमारे द्वारा किए जानेवाले काम की प्रकृति और ब्रह्मांड में मौजूद दिशाओं की प्रकृति को देखते हुए हर घर और कार्यस्थल का निर्माण कराने की सलाह दी जाती है। जब कभी दिशा और कार्य का मेल नहीं होता तो हमारे कामों में व्यवधान आना शुरू हो जाता है। अगर आपके घर में भी स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याएं लगातार बनी हुई हैं तो एक बार घर के मास्टर बेडरूम की दिशा जरूर चेक करें।

वास्तु के अनुसार, दक्षिण दिशा घर के मुखिया की दिशा होती है। इसलिए घर का मास्टर बेडरूम दक्षिण दिशा में ही होना चाहिए।