दतिया में बारदाने की कमी के चलते खरीद केन्द्रों पर गेहूं खरीदी में भारी परेशानी आ रही है, किसान खरीदी केन्द्र पर अपना माल लेकर पहुंच जाते हैं, लेकिन उनका नंबर 3- 4 दिन में आता है जिससे किसान काफी परेशान हैं.


पिछले साल की तरह इस साल भी खरीद केन्द्रों पर बारदाने का संकट आ गया है. दतिया के ज्यादातर गेहूं खरीदी केन्द्रों पर बारदानों की कमी है. बारदाने की कमी के चलते खरीद केन्द्रों पर गेहूं खरीदी में भारी परेशानी आ रही है.


किसान एसएमएस मिलने पर अपना माल लेकर खरीदी केन्द्र पर पहुंच जाते हैं, लेकिन उनका नंबर 3 से 4 दिन में आता है. जिससे किसानों को खरीद केन्द्रों पर रहना होता है या फिर उन्हें दोबारा आना पड़ता है. जिससे किसानों का धन और समय दोनों ही खर्च हो रहे हैं. जिसके कारण किसानों का काफी किसान परेशानी का सामना करना पड़ता है.


जिम्मेदार अधिकारी कह रहे हैं कि इस साल गेहूं का उत्पादन उनके उम्मीद से ज्यादा हुआ है. जिससे सरकारी गेहूं खरीद केंद्रों में बारदाने की कमी हो गई है.

किसानों ने बताया कि बारदाने की कमी हर साल आती है, लेकिन प्रशासन फिर भी सबक नहीं लेता है. प्रशासन की लापरवाही का खामियाजा हर साल किसानों को ही भुगतना पड़ता है.