भोपाल। भारत निर्वाचन आयोग ने चुनाव ड्यूटी को लेकर जो ऑनलाइन परीक्षा ली है, उसके परिणाम निराशाजनक आए हैं। भोपाल के दो तहसीलदार संतोष मुदगल और संध्या कौशल चतुर्वेदी को 16 और 17 अंक मिले हैं, जबकि एसडीएम बैरसिया राजीव नंदन श्रीवास्तव को 18 अंक मिले। हालांकि ये तीनों परीक्षा में फेल माने जा रहे हैं, क्योंकि न्यूनतम 21 नंबर लाने पर इन्हें पास माना जाएगा। इन्हें संभवतः दोबारा परीक्षा देनी होगी। चुनाव आयोग ने चुनाव प्रक्रिया को लेकर 30 सवाल पूछे थे इसमें वोटर लिस्ट, एनआरआई वोटर्स और चुनाव के दौरान फर्जी वोटिंग को लेकर सवाल थे जिनका अधिकांश प्रशासनिक अधिकारी जवाब नहीं दे पाए।


दरअसल, संभाग से 60 एसडीएम-तहसीलदार ने यह परीक्षा दी थी, लेकिन पास सिर्फ 35 अधिकारी ही हुए। 25 अधिकारी पास होने के लिए 21 अंक तक नहीं जुटा पाए। फेल होने वालों में संभाग के पांचों जिलों के अधिकारी शामिल हैं। फेल होने वालों में 90 प्रतिशत अधिकारी वही हैं, जिन्होंने 2013 और 2014 में विधानसभा और लोकसभा चुनाव कराए थे। भोपाल जिले से आयोग की परीक्षा में 10 अधिकारी शामिल हुए थे, जिनमें तहसीलदार बैरसिया संतोष मुदगल, तहसीलदार एमपी नगर संध्या कौशल चतुर्वेदी व एसडीएम बैरसिया राजीव नंदन श्रीवास्तव फेल हो गए। अब इन सभी अधिकारियों को दोबारा परीक्षा देनी होगी, तभी वे चुनाव ड्यूटी का हिस्सा बन सकेंगे।


भोपाल जिले में पदस्थ किस अधिकारी को कितने मिले नंबर


एसडीएम - प्राप्तांक


रवि कुमार सिंह - 25


अतुल सिंह - 25


संजय कुमार श्रीवास्तव - 23


कृष्ण कुमार रावत - 23


राजीव नंदन श्रीवास्तव - 18


मुकुल गुप्ता - 21


तहसीलदार - प्राप्तांक


विनोद सोनकिया - 25


मनोज श्रीवास्तव - 25


संतोष मुदगल - 16


संध्या कौशल चतुर्वेदी - 17


एचएस विश्वकर्मा - 21


मनीष शर्मा - 21


अजय प्रताप सिंह - 22