नई दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को कर्नाटक में चुनाव प्रचार के दौरान कोलार में रोड शो किया. इसके बाद उन्होंने एक जनसभा को भी संबोधित किया. इस दौरान बंगलुरु देहात में राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि मोबाइल में तीन मोड होते हैं, वर्क-स्पीकर-एयरप्लेन. लेकिन मोदी जी सिर्फ स्पीकर और एयरप्लेन मोड में काम करते हैं, पीएम मोदी कभी वर्क मोड में नहीं आते हैं.

इससे पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को कर्नाटक के कोलार में रोड शो किया. राहुल ने यहां पेट्रोल के बढ़ते दामों के खिलाफ मार्च निकाला. राहुल ने सोमवार सुबह ही ट्वीट कर मोदी सरकार पर हमला बोला था. रोड शो के बाद राहुल ने यहां एक जनसभा को संबोधित किया. उन्होंने पूछा कि जब दुनिया में पेट्रोल-डीजल के दाम कम हो रहे हैं, तो फिर सरकार देश में दाम क्यों नहीं घटा रही है. मोदी सरकार पेट्रोल-डीजल को जीएसटी के तहत नहीं लाना चाहती है.


अमीरों को पैसा दे रहे हैं पीएम मोदी


राहुल गांधी ने कहा कि देश में आम आदमी की जेब से पैसा निकाल कर अमीर लोगों को दिया जा रहा है. राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नीरव मोदी की जेब में पैसा डाल रहे हैं. उन्होंने कहा कि ये चुनाव कर्नाटक की जनता के बारे में है, सवाल है कि देश का प्रधानमंत्री कर्नाटक के लिए क्या करता है. हमारी सरकार ने कर्नाटक में किसानों का 8000 करोड़ रुपए का कर्जा माफ किया.


राहुल ने प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले चार साल से मोदी जी किसानों की बात कर रहे हैं लेकिन उनके लिए कुछ नहीं कर रहे हैं. राहुल ने कहा कि 2019 में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी और 10 दिन में सभी किसानों का कर्जा माफ कर दिया जाएगा. राहुल बोले कि केंद्र सरकार ने पिछले चार साल में गरीबों के लिए कुछ नहीं किया. येदियुरप्पा जी ने कर्नाटक की सबसे भ्रष्ट सरकार चलाई.


बैलगाड़ी और साइकिल की सवारी


पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों को लेकर बैलगाड़ी पर सवार होकर राहुल गांधी ने कोलार में अपना विरोध जताया. उनके साथ भारी संख्या में कांग्रेस के बड़े नेता भी शामिल थे. बैलगाड़ी के अलावा साइकिल मार्च निकालकर भी राहुल गांधी ने महंगाई का विरोध किया. राहुल का कहना है कि कर्नाटक के लोग महंगाई से त्रस्त हैं. राहुल ने कहा कि 2019 में कांग्रेस पार्टी की सरकार बनेगी और 10 दिन में सभी किसानों का कर्जा माफ कर दिया जाएगा.


गौरतलब है कि कर्नाटक में 12 मई को मतदान होना है. राज्य में 15 मई को नतीजे घोषित होंगे. हाल ही में आए कई ओपेनियन पोल में त्रिशंकु विधानसभा होने की आशंका दिखाई दी. ओपेनियन पोल में देवगौड़ा की पार्टी जेडीएस किंग मेकर की भूमिका में नज़र आ रही है. इंडिया टुडे के पोल में कांग्रेस को 90 से 101 सीट और बीजेपी को 78 से 86 सीट मिलने की संभावना है. वहीं जेडीएस को 34-43 सीट मिलने की संभावना है.