बंगलुरु  पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने सोमवार को कर्नाटक की राजधानी बंगलुरु में प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला. मनमोहन ने कहा कि हमारा देश इस समय काफी मुश्किल समय से गुज़र रहा है, अर्थव्यवस्था की हालत काफी खस्ता है. पूर्व पीएम ने कहा कि देश में बैंकिंग घोटाले 1.1 लाख करोड़ रुपए तक पहुंच गए हैं.

पूर्व पीएम ने कहा कि समय है कि ऐसा माहौल बनाया जाए जिसमें नए आइडियों पर बात हो सके. उन्होंने कहा कि हमें ध्यान रखना चाहिए कि आर्थिक नीति लोगों के लिए काफी जरूरी होती है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार की नीति से देश को काफी नुकसान पहुंचा है. यूपीए सरकार ने विपरित परिस्थितियों में भी 7.8 फीसदी की ग्रोथ रेट से विकास किया था.

मनमोहन सिंह ने कहा कि जीएसटी को लागू करने में जल्दबाजी की गई, इससे छोटे व्यापारियों को काफी नुकसान पहुंचा है. मनमोहन सिंह ने कहा कि बीजेपी की नीति का असर आम लोगों पर पड़ा है, आज देश में पेट्रोल के दाम काफी बढ़ गए हैं.

पेट्रोल के दामों को लेकर भी घेरा

मनमोहन बोले कि दुनिया में पेट्रोल-डीजल के दाम अभी काफी कम हैं लेकिन देश में बढ़ गए हैं. उन्होंने सरकार पर हमला करते हुए कहा कि इस सरकार में 110 फीसदी पेट्रोल-डीज़ल के दाम बढ़े हैं. पूर्व पीएम ने कहा कि केंद्र ने आम आदमी पर लगातार टैक्स का बोझ डाला है.

मनमोहन सिंह ने कहा कि मोदी सरकार ने पिछले चार साल में सिर्फ यूपीए सरकार की सफलता को भुनाया है. उन्होंने कहा कि सही निर्णय लेने की बजाय उन्होंने सिर्फ इस बात पर ध्यान दिया कि ये दिक्कतें कैसे आईं.

मनमोहन ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार के राज में देश की जीडीपी यूपीए के राज की आधी रह गई है. इसके अलावा कृषि सेक्टर में भी भारी गिरावट आई है. मनमोहन सिंह ने कहा कि बंगलुरु की पूरी दुनिया में अलग पहचान है. देशभर के युवा यहां पर नौकरी के लिए आते हैं.

गौरतलब है कि कर्नाटक में 12 मई को मतदान होना है ऐसे में राजनीतिक दलों की ओर से प्रचार काफी तेजी हो रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ही नमो ऐप के जरिए बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं से बात की थी. इसके अलावा पीएम मोदी लगातार राज्य में चुनावी रैलियों को संबोधित कर रहे हैं. राज्य में 15 मई को चुनाव के नतीजे आएंगे.