नई दिल्ली: प्रजनेश गुणेश्वरन ने एटीपी चैलेंजर सर्किट में अपना पहला एकल खिताब जीता है. उन्‍होंने एनिंग में चल रहे कुनमिंग ओपन टेनिस टूर्नामेंट के फाइनल में मिस्र के मोहम्मद सफवात को हराकर आज यह उपलब्धि हासिल की. इस जीत से प्रजनेश शीर्ष 200 रैंकिंग में पहुंच जाएंगे. हाल में डेविस कप में चीन के खिलाफ अंतिम व निर्णायक मैच जीतने वाले प्रजनेश ने मिस्र के खिलाड़ी को एक घंटे और 52 मिनट में 5-7 6-1 6-3 से मात दी. इससे पहले, प्रजनेश वह अक्‍टूबर 2016 में पुणे टूर्नामेंट के फाइनल में सादियो दौम्बिया से हार गए थे और उनका खिताब जीतने का सपना पूरा नहीं हो सका था.

चेन्नई के 28 वर्षीय खिलाड़ी ने इस तरह 21,600 डॉलर की इनामी राशि अपने नाम की. साथ ही 125 रैंकिंग अंक हासिल किए जिससे कल जारी होने वाली रैंकिंग में उनके 80 से ज्यादा स्थान की छलांग लगाने की उम्मीद है. इस समय प्रजनेश सिंगल्‍स वर्ग में  260 वीं रैंकिंग पर काबिज हैं.

भारत के अब शीर्ष 200 रैंकिंग के अंदर तीन खिलाड़ी हो जाएंगे क्योंकि उम्मीद है कि प्रजनेश 175 वीं रेंकिंग पर पहुंच जाएंगे. युकी भांबरी अभी 83 वें स्थान से रैंकिंग में शीर्ष भारतीय हैं, जिनके बाद रामकुमार रामनाथन का स्‍थान आता है. रामनाथन इस समय 115वीं रैकिंग के खिलाड़ी हैं.