गुरुवार को मोहाली में क्रिस गेल ने अपना पुराना अवतार दिखाते छक्कों की बरसात कर डाली और इस आईपीएल सीजन का पहला शतक ठोक दिया। गेल की पारी ने हर क्रिकेट फैन का दिल जीत लिया, लेकिन इस वक्त ऐसा भी था जब उन्हें इस आईपीएल में खरीदना वाला कोई नहीं मिला था। इस बात का जिक्र करते हुए गेल ने कल कहा कि टीम के मेंटॉर वीरेंद्र सहवाग ने उन्हें चुनकर आईपीएल को बचा लिया। 

वेबसाइट 'ईएसपीएन डॉट कॉम' की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब टीम के निदेशक सहवाग ने इस साल हुई नीलामी में अंतिम मिनटों में गेल को अपनी टीम में शामिल किया। इससे पहले हुए दो दौर की नीलामी में किसी टीम ने गेल को खरीदने में रुचि नहीं दिखाई थी। गौरतलब है कि पंजाब ने आईएस बिंद्रा स्टेडियम में गुरुवार रात को खेले गए मैच में पूर्व चैंपियन सनराइजर्स हैदराबाद को 15 रन से हराकर लीग में अपनी तीसरी जीत दर्ज की। इस मैच में गेल ने 1०4 रनों की नाबाद पारी खेली। 

'नीलामी के दौरान मुझे दुख हुआ'

गेल ने मैच के बाद दिए बयान में इस बात पर भी जोर देकर निराशा जताई कि नीलामी में पहले दो बार नाम लिए जाने के बावजूद किसी भी टीम ने उन्हें नहीं खरीदा और इससे उन्हें काफी दुख हुआ। अंत में पंजाब ने उन्हें अपनी टीम में शामिल किया। गेल ने कहा, 'मैं हमेशा से प्रतिबद्ध था। कई लोग कहेंगे कि गेल को अभी बहुत कुछ साबित करना है, क्योंकि उसे नीलामी में पहले दो बार घोषणा किए जाने पर किसी भी टीम ने नहीं खरीदा। हालांकि, मैं यह कहूंगा कि सहवाग ने मुझे चुन कर आईपीएल को बचा लिया।'


'सहवाग की उम्मीदों पर खरा उतरूंगा'

पंजाब और सहवाग द्वारा एक खिलाड़ी के तौर पर उनकी कीमत समझे जाने से गेल काफी खुश हैं और उन्हें आशा है कि वह सहवाग की उम्मीदों पर खरे उतरेंगे। गेल ने कहा कि आईपीएल के 11वें सीजन में मेरे लिए यह एक अच्छी शुरुआत है। मुझे लगातार दो बार मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला। सहवाग ने एक इंटरव्यू में कहा था कि अगर गेल दो मैच जीत लेगा, तो उन्हें लगेगा कि उन्होंने गेल पर जो पैसा लगाया था वह बेकार नहीं हुआ। मैं अब सहवाग से अन्य लक्ष्यों के बारे में बात करूंगा।