मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में सूखे तालाब को बचाने के लिए ताल संरक्षण अभियान 2018 का शुभारंभ किया गया है. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कार्यक्रम में कहा कि जल संरक्षण के लिए आगामी 1 मई से 15 मई तक प्रदेशभर में 'तालाब बचाओ' अभियान चलाया जाएगा. इस अवसर पर सीएम ने श्रमदान कर उपस्थित लोगों को पानी बचाने का संकल्प भी दिलाया.


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में ताल संरक्षण अभियान 2018 का शुभारंभ करते हुए कहा कि जल संरक्षण के लिए आगामी एक मई से प्रदेश भर में 'तालाब बचाओ' अभियान चलाया जाएगा. इस अवसर पर सीएम शिवराज ने श्रमदान कर उपस्थित जन समूह को पानी बचाने का संकल्प भी दिलाया.


सीएम शिवराज ने कहा कि पिछले साल कम बरसात होने के चलते प्रदेश में कहीं-कहीं जगहों पर पानी की किल्लत सामने आ रही है. तालाब संरक्षण को लेकर उन्होंने कहा कि प्रदेश के तालाबों को सुरक्षित रखना हमारा फर्ज है इसलिए सभी को पानी बचाने के लिए आगे आना चाहिए. शिवराज सिंह ने कहा कि योग और श्रम का मेल अब प्रदेश में तालाब संरक्षण का काम करेगा.


साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी कहा तालाब हमारे शहर की आत्मा है, इसे हर हाल में हमें बचाना होगा. यह शहर की धरोहर है, किसी भी हालत में इसे सूखने और इसमें गंदगी नहीं होने देना है. उन्होंने कहा कि अगर शहर का यह तालाब सूखा तो पानी के भंडारण की क्षमता कम हो जाएगी. इस अभियान में सभी भोपाल के लोगों को बढ़-चढ़कर अपना योगदान दे.