सिंगापुरः वैश्विक लॉजिस्टिक कंपनी ड्यूश पोस्ट डीएचएल ग्रुप दक्षिणपूर्वी एशियाई बाजारों के साथ भारत के आर्थिक संबंधों को मजबूत बनाने के लिए आसियान आर्थिक समुदाय से भारतीय कंपनियों को जोड़ने का काम कर रही है।

डीएचएल के अध्यक्ष (ग्लोबल फास्ट ग्रोइंग एंटरप्राइज एवं उपभोक्ता समाधान तथा नवोन्मेष के क्षेत्रीय प्रमुख (एशिया प्रशांत) अल्फ्रेड गोह ने कहा, ‘‘भारत हमारे लिए मुख्य बाजार है। हम आसियान आर्थिक समुदाय में अपने उपभोक्ताओं को उनके तरीके से कार्य करने में मदद करेंगे जो भारत की ‘एक्ट ईस्ट’ नीति के अनुकूल सुदूर पूर्वी बाजार में मददगार साबित होगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम 1.8 अरब लोगों की सामुहिक आबादी वाले इन बाजारों में अपनी उपस्थिति को भुनाना चाहते हैं तथा सीमा पार व्यापार एवं वाणिज्य के लिए कंपनियों से भागीदारी करना चाहते हैं।’’

गोह ने कहा, ‘‘शुरुआती समय से माल एवं सेवा कर (जीएसटी) प्रक्रिया के विकास का हिस्सा होने के नाते हमें नई कर प्रणाली की अच्छी समझ है जिसे भारत केंद्रित विदेशी निवेशक अभी समझने की कोशिश कर रहे हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘डीएचएल भारत और दक्षिणपूर्वी एशिया दोनों बाजारों से पूरी तरह अवगत है। हमें आसियान के कर प्रोत्साहन, विकल्पों और कारोबारी स्थिति की जानकारी है।’’