नई दिल्ली. कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी है। इसमें 218 कैंडिडेट्स के नामों का ऐलान किया गया है। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया चामुंडेश्वरी से चुनाव लड़ेंगे। सिद्धारमैया के बेटे डॉ. यतींद्र वरुणा सीट से लड़ेंगे। इससे पहले भारतीय जनता पार्टी 72 कैंडिडेट्स की लिस्ट जारी कर चुकी है। कर्नाटक में भाजपा का सीएम चेहरा येदियुरप्पा हैं, वे शिकारीपुरा से चुनाव में उतरेंगे। बता दें कि राज्य की 224 सीटों के लिए एक फेज में 12 मई को मतदान होगा। 15 मई को नतीजे आएंगे। बता दें कि अभी कर्नाटक में कांग्रेस की सरकार है और सिद्धारमैया सीएम हैं।

17% लिंगायत वोटर, उनके नेता येदियुरप्पा बीजेपी का चेहरा

-75 साल के येदियुरप्पा लिंगायत नेता हैं। राज्य में 17% लिंगायत वोटर हैं। वे 2007 में एक बार सात दिनों के लिए और बाद में 2008 में सीएम बने। 2008 में उन्होंने अपने दम पर भाजपा को जिताया। भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद पार्टी की ओर से उन पर दबाव बना। उन्हें 2011 में मुख्यमंत्री पद छोड़ना पड़ा। इससे नाराज होकर येदियुरप्पा ने 2012 में भाजपा ही छोड़ दी और कर्नाटक जनता पार्टी (केजेपी) का गठन किया। उनके पार्टी से अलग होने के बाद 2013 में भाजपा चुनाव हार गई। उसे सिर्फ 40 सीटें मिलीं।

- 2014 के लोकसभा चुनाव के वक्त मोदी उन्हें फिर बीजेपी में ले आए। इस चुनाव में भाजपा को राज्य की 28 में से 17 लोकसभा सीटें मिलीं।

राज्य में 8% आबादी वाले कुरुबा समुदाय से हैं सिद्धारमैया

- 69 साल के सिद्धारमैया 2013 से मुख्यमंत्री हैं। इनके नेतृत्व में कांग्रेस ने पिछली बार भाजपा को हराकर 122 सीटें जीतीं। उन्होंने पिछले कुछ वक्त से एक ऐसे नेता के रूप में अपनी छवि बनाने की कोशिश की है, जो भाजपा के हिंदी और हिंदू के नारे का विरोध करता है। वे अपने भाषणों में कन्‍नड़ और दक्षिण भारतीय अस्मिता की बात करते रहे हैं।

- सिद्धारमैया कुरुबा समुदाय से हैं। कुल आबादी में इनकी 8% हिस्सेदारी है। उन्होंने भाजपा को रोकने के लिए लिंगायतों को अल्पसंख्यक का दर्जा देने का कार्ड खेला है।

17 अप्रैल से शुरू होगी कर्नाटक में चुनावी प्रक्रिया

कुल सीटें: 224

बहुमत: 113

वोटर: 4.90 करोड़

तारीख चुनावी शेड्यूल
17 अप्रैल अधिसूचना जारी होगी।
24 अप्रैल नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख।
25 अप्रैल नामांकनों की छंटनी।
27 अप्रैल नाम वापस लेने की आखिरी तारीख।
12 मई मतदान
15 मई नतीजे
 


2013 विधानसभा चुनाव : येदियुरप्पा के भाजपा छोड़ते ही कांग्रेस ने बनाई सरकार

पार्टी सीट वोट शेयर
कांग्रेस 122 36.6%
जेडीएस 40 20.2%
भाजपा 40 19.9%
अन्य 22 23.3%

2014 लोकसभा चुनाव :मोदी लहर में भाजपा को मिलीं 28 में से 17 सीटें

 

पार्टी सीट वोट शेयर
भाजपा 17 43.4%
कांग्रेस 9 41.2%
जेडीएस 2 11.1%

 

  •  
  • कर्नाटक में वोक्कालिगा और लिंगायत समुदाय से 14 मुख्यमंत्री बने

    50% विधायक और सांसद अब तक इन्हीं दोनों कम्युनिटी से आते रहे हैं।

    224 मौजूदा विधायकों में 55 वोक्कालिगा और 52 लिंगायत कम्युनिटी से हैं।

    100 सीटों पर लिंगायत और 80 सीटों पर वोक्कालिगा कम्युनिटी असर डालती है।

    14 मुख्यमंत्री (8 लिंगायत और 6 वोक्कालिगा) राज्य में दोनों कम्युनिटी से हुए हैं।

    राज्य में दलित आबादी सबसे ज्यादा

    दलित: 19%,

    मुस्लिम: 16%

    ओबीसी: 16%

    लिंगायत: 17%

    वोक्कालिगा: 11%

    अन्य: 21%