प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पंचायती राज दिवस, 24 अप्रैल को मध्य प्रदेश के जबलपुर आएंगे. जबलपुर के गैरिसन ग्राउंड सदर में 23 और 24 अप्रैल को पंचायत प्रतिनिधियों का सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है. इस सम्मेलन में प्रदेश के सरपंच व ग्रामीण क्षेत्र के प्रतिनिधियों को प्रधानमंत्री संबोधित करेंगे.

दरअसल, पंचायती राज दिवस पर आयोजित होने वाले इस मुख्य समारोह के लिए इस बार पूरे देश में जबलपुर का चयन किया गया है. वर्ष 2010 से मनाए जा रहे इस दिवस के 8वें वर्ष पर आयोजित किए जा रहे समारोह में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जबलपुर आएंगे.

23 और 24 अप्रैल को होने वाले राष्ट्रीय कार्यक्रम में सिर्फ पंचायत प्रतिनिधियों को ही आमंत्रित किया गया है. 24 अप्रैल को पीएम नरेंद्र मोदी प्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे. इस कार्यक्रम में पार्टी के प्रमुख नेता ही शामिल हो सकेंगे.

बताया जा रहा है कि यह कार्यक्रम पूरी तरह पंचायती राज को समर्पित है. इसलिए देश और प्रदेश से आने वाले जिला पंचायत, जनपद, ग्राम स्तर के प्रतिनिधियों को कार्यशाला में बुलाया जाएगा.

प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्रियों, पंचायत मंत्रियों के अलावा विधायक या सांसदों के लिए अलग से बैठने की व्यवस्था भी की जा सकती है, लेकिन जरूरी नहीं है कि उन्हें यह अनुमति दी जाए. 23 अप्रैल को जरूर क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों का जमावड़ा देखने मिल सकता है.