दो अप्रैल को भारत बंद के बाद बदली राजनीतिक परिस्थिति में दलितों में भरोसा कायम रखने के लिए राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा ने डैमेज कंट्रोल की तैयारी शुरू कर दी है। इस कड़ी में आगामी 14 अप्रैल को भाजपा से लेकर आरएसएस से जुड़े संगठन विश्व हिंदू परिषद और बजरंग दल की तरफ से डॉ. भीमराव आंबेडकर  जयंती मनाने का निश्चय किया गया है। वहीं, भाजपा ने देश से बाहर लंदन में भी आंबेडकर जयंती मनाने की तैयारी की है। विशेष बात यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लंदन में होने वाले आंबेडकर जयंती समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल हो सकते हैं।

महाराष्ट्र के सामाजिक न्यायमंत्री राजकुमार बडोले ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी आगामी 18 से 20 अप्रैल के दरम्यान लंदन में रहेंगे। इस दौरान लंदन स्थित डॉ. भीमराव आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय स्मारक में आयोजित जयंती समारोह आयोजित किया जाएगा। पीएम मोदी इस समारोह में शिरकत कर सकते हैं।


गौरतलब है कि नवंबर 2015 में पीएम मोदी की पहल पर भारत के संविधान निर्माता डॉ. भीमराव आंबेडकर का लंदन स्थित 10, किंग हेनरी रोड स्थित चार मंजिला बंगला खरीदा गया था। लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स में अध्ययन के दौरान डॉ. आंबेडकर 1921-1922 में इसी बंगले में रहकर पढ़ाई की थी। महाराष्ट्र की भाजपा सरकार ने इस बंगले की कीमत अदा की थी और उसके बाद 2050 वर्गफुट के इस मकान को डॉ. भीमराव आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय स्मारक में तब्दील कर दिया गया है। इसे शैक्षणिक और सांस्कृतिक केंद्र के रूप में विकसित किया जा रहा है।