चंडीगढ़ फेसबुक के जरिए पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री हरचरण सिंह बराड़ की 5 महीने से गायब घोड़ी मिल गई है. इस घोड़ी की कीमत 10 लाख रुपये है. गायब होने से पहले घोड़ी हरचरण की बहू करण कौर बराड़ के हॉर्स फार्म में रहती थी. करण कौर के बेटे तेगवीर सिंह बराड़ को कीमती घोड़ी अचानक फेसबुक पर नजर आ गई.


घोड़ी की तस्वीर चंडीगढ़ के करीब स्थित एक हॉर्स राइडिंग स्कूल ने अपनी वेबसाइट पर साझा की थी. स्कूल के संचालक से बात की गई तो उन्होंने इसे लौटा दिया. यह घोड़ी चेमपंस पीक नस्ल की है.


घोड़ी उस वक्त गायब हुई थी जब उसे फार्म के दूसरे घोड़ों के साथ खुला छोड़ा गया था. इस घोड़ी के साथ छोड़े गए घोड़े तो वापस लौट आए लेकिन वह नहीं लौटी. उसकी बहुत तलाश की गई लेकिन घोड़ी का कोई अता-पता नहीं लगा.


आखिर ये महंगी नस्ल की घोड़ी पंजाब के मुक्तसर साहिब से 235 किलोमीटर दूर खरड़ में कैसे पहुंच गई, यह अभी तक रहस्य है. तेगवीर सिंह बराड़ ने इस रहस्य से पर्दा उठाने से इनकार कर दिया.


उन्होंने कहा- 'घोड़ी मुख्तसर साहिब से खरड़ क्यों, कब और कैसे पहुंची, मैं इस पर कोई बात नहीं करना चाहता. मुझे मेरी घोड़ी सुरक्षित वापस मिल गई है, यह बड़ी बात है और मैंने घोड़ी लौटाने वाले का धन्यवाद किया है.'