मुंबई भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी की परेशानियां बढ़ती ही जा रही हैं. बताया जाता है कि बुधवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने अपनी एंटी करप्शन यूनिट (एसीयू) को शमी मुद्दे की जांच करने के लिए कहा है. शमी के खिलाफ उनकी पत्नी हसीन जहां ने मैच फिक्सिंग के भी आरोप लगाए हैं.


सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित क्रिकेट प्रशासकीय कमेटी (सीओए) के चीफ विनोद राय ने एसीयू के प्रमुख नीरज कुमार को एक ई-मेल भेजा है. उन्होंने इन आरोपों की जांच कर हफ्तेभर के भीतर रिपोर्ट मांगी है. उन्होंने यह मेल बीसीसीआई के सभी पदाधिकारियों को मार्क किया है.


दो दिन पहले ही कोलकाता पुलिस ने बीसीसीआई को चिट्ठी को लिखकर भारतीय क्रिकेट टीम के साउथ अफ्रीका दौरे का ब्योरा मांगा था. हसीन जहां ने आरोप लगाया है कि शमी मैच फिक्सिंग में शामिल हो सकते हैं, क्योंकि उन्होंने इंग्लैंड के एक मोहम्मद भाई से आश्वस्त होने के बाद कोलकाता में अलिश्बा नाम की एक पाकिस्तानी लड़की से पैसे लिये थे.


शमी की पत्नी हसीन जहां ने उन पर विवाहेतर संबंध, घरेलू हिंसा सहित कई गंभीर आरोप लगाए हैं. कोलकाता पुलिस ने हसीन जहां की शिकायत के बाद शमी पर आईपीसी की सात धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है. शमी फिलहाल भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से बाहर हैं. अब उनके आईपीएल में खेलने पर भी सवालिया निशान लग चुका है.