नई दिल्ली  बेवफाई के शक में एक शख्स ने प्रेमिका की हत्या कर दी। हत्या करने के बाद वह बाहर से कमरे का ताला बंद करने के बाद फरार हो गया। तफ्तीश में पुलिस को पता चला कि महिला की हत्या करने के दो दिन बाद आरोपी प्रेमी ने भी शामली (यूपी) में ट्रेन से कटकर खुदकुशी कर ली।

पुलिस ने बताया कि पुरानी कोंडली में रहने वाले ओमप्रकाश ने मंगलवार दोपहर पुलिस को कॉल करके बताया कि उन्होंने कमरा पवन को रेंट पर दिया है। इसका ताला बाहर से बंद है, लेकिन उससे बहुत तेज बदबू आ रही है। दो दिनों से पवन का कुछ अता-पता नहीं है। पुलिस ने वहां पहुंचकर कमरे का दरवाजा खोला तो अंदर एक महिला की सड़ी-गली लाश पड़ी थी। महिला की पहचान मोनिका के रूप में हुई। पुलिस को यह भी पता चला कि महिला पति सोनू उर्फ दीपक और तीन बच्चों के साथ लोनी में रहती थीं। पुलिस ने महिला के पति और पिता को मौके पर बुलाया। उन्होंने शव की पहचान की। 

छानबीन में पुलिस को पता चला कि महिला की 2010 में शादी हुई थी। 8-10 दिन पहले वह लोनी से अपने मायके आई थीं। 9 मार्च को वह घर से अचानक गायब हो गईं। परिवारवालों ने महिला की तलाश की, लेकिन उनका कोई सुराग नहीं मिला। परिवारवालों ने उसी दिन सीलमपुर थाने में महिला की गुमशुदगी दर्ज करा दी थी। 


पुलिस को यह पता चला कि 9 मार्च को महिला घर से अपने प्रेमी पवन के साथ गई थीं। पवन महिला को पुरानी कोंडली स्थित अपने कमरे पर लेकर आया था। उसी रात वह महिला का मर्डर कर कमरे का बाहर से ताला बंदकर वहां से फरार हो गया था। पुलिस ने जब पवन की तलाश शुरू की तो पता चला कि पवन ने मोनिका की हत्या करने के दो दिन बाद रविवार को शामली स्टेशन के पास मालगाड़ी के आगे पटरी पर लेटकर खुदकुशी कर ली थी। पुलिस को यह भी पता चला कि उनका पांच साल से अफेयर चल रहा था। पवन की शादी नहीं हुई थी।