छत्तीसगढ़ के बस्तर जिले में सुरक्षा बलों द्वारा मारे गए माओवादियों का बदला लेने के लिए इन दिनों माओवादी किसी बड़े हमले की फिराक में हैं. सूत्रों के मुताबिक इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) ने छत्तीसगढ़ और बस्तर पुलिस को अलर्ट जारी किया है. इस चलते बस्तर संभाग के सभी जिलों को मुस्तैद रहने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं खुफिया विभाग की मानें तो माओवादी बीते फरवरी माह से लेकर आगामी जून तक अपना टैक्टिकल काउंटर ऑफेंसिव कैंपेन (टीसीओसी) माह मनाते हैं.


इस दौरान माओवादी एकत्रित होकर किसी बड़े हमले की योजना को तैयार कर लेते हैं. साथ ही पुलिस के जवान को भारी नुकसान पहुंचाते हैं. आपको बता दें कि हाल ही में तेलंगाना पुलिस और छत्तीसगढ़


पुलिस ने बीजापुर जिले के पुजारी कांकेर में 10 माओवादियों को मार गिराया था. इस हमले में मारे गए अपने माओवादी साथियों का बदला लेने के लिए माओवादी छत्तीसगढ़ में बड़े हमले करने के फिराक में हैं.

लिहाजा, इस बात की आशंका जताते हुए आईबी ने छत्तीसगढ़ पुलिस को अलर्ट जारी किया है. साथ ही बस्तर संभाग के सभी जिले के पुलिस अधीक्षकों को सतर्कता बरतने के निर्देश भी दिए गए हैं. बता दें कि बीते 2 मार्च को हुए पुलिस और नक्सली में मुठभेड़ के बाद माओवादियों ने सुकमा जिले में ताडंव मचाते हुए 3 यात्री बसों समेत 3 ट्रकों में आगजनी की घटना को अंजाम दिया था. इसी बात को ध्यान में रखते हुए पूरे बस्तर संभाग को अलर्ट जारी कर दिया गया है.