अमरीका ने कहा है कि कोरिया के शासक किम जोंग उन के भाई किम जोंग नम की हत्या में 'वीएक्स नर्व एजेंट' का इस्तेमाल किया गया था. वीएक्स नर्व एक बेहद जहरीला सिंथेटिक रासायनिक कम्पाउंड होता है.


उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के सौतेले भाई किम जोंग नम की मौत 2017 में हुई थी.


अब अमरीका ने कहा है कि उत्तर कोरिया की सरकार के आदेश पर किम जोंग उन के सौतेले भाई की हत्या रासायनिक पदार्थ से की गई थी.


रासायनिक पदार्थ वीएक्स एजेंट का इस्तेमाल रासायनिक हथियार के तौर पर किया जाता है.


मलेशिया की राजधानी कुआलालम्पुर हवाई अड्डे पर एक विचित्र वाकये में दो महिलाओं ने किम जोंग नम पर वीएक्स नर्व एजेंट से जानलेवा हमला किया था. तब किम फ़्लाइट का इंतज़ार कर रहे थे.

आरोप और इनकार

इन दोनों महिलाओं पर मलेशिया में मुकदमा चल रहा है. इनका कहना है कि उन्हें लगा था कि यह सब एक टीवी प्रैंक के लिए हो रहा है.


अमरीका ने कहा है कि वो इस रिपोर्ट के सामने आने के बाद उत्तर कोरिया पर नए प्रतिबंध लगाएगा.


अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्ट ने कहा, "रासायनिक हथियारों के इस्तेमाल के ख़िलाफ़ व्यापक मानदंडों की अवमानना उत्तर कोरिया की लापरवाही को दर्शाता है और इस बात की ताकीद करता है कि हम उत्तर कोरिया के किसी भी प्रकार के रासायनिक हथियार कार्यक्रम को बर्दाश्त नहीं कर सकते."


अमरीका लगातार उत्तर कोरिया पर किम जोंग नम की हत्या का आरोप लगाता रहा है.


उत्तर कोरिया ऐसी किसी भागीदारी से इनकार भी करता रहा है.

प्रतिबंध

5 मार्च को लगाए गए प्रतिबंध उत्तर कोरिया के ख़िलाफ़ अमरीकी प्रतिबंधों की सीरीज़ में सबसे नए हैं.


यह घोषणा एक उच्चस्तरीय दक्षिण कोरियाई प्रतिनिधिमंडल के उत्तर कोरिया में किम जोंग उन के साथ बैठक से लौटने के बाद की गई है.


दक्षिण कोरिया में शीतकालीन ओलंपिक के बाद संबंधों में आई सरगर्मी का लाभ उठाने के लिए किम जोंग उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन के बीच मीटिंग प्रस्तावित है.


यह एक दशक से अधिक समय में दोनों देशों के बीच और 2011 में उत्तर कोरिया की सत्ता पर किम जोंग उन के काबिज़ होने के बाद पहली बैठक होगी.


अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने कहा कि उत्तर कोरिया का ये सुझाव कि वो परमाणु हथियारों से छुटकारा पाने पर चर्चा कर सकता है, सकारात्मक है लेकिन ये झूठी उम्मीद साबित हो सकता है.


उत्तर कोरिया अपनी परमाणु कार्यक्रम पर रोक लगाने के वादे पर पहले भी नाकाम रहा है.

उठाए थे सवाल

किम जोंग नम काफी हद तक अपने परिवार से अलग थे और सौतेले भाई किम जोंग उन को नेतृत्व सौंपने के दौर में उन्हें नजरअंदाज किया गया.


उन्होंने अपना अधिकतर समय मकाउ, चीन और सिंगापुर की विदेशी धरती पर बिताया.


वो उत्तर कोरिया पर उनके परिवार के वंशवादी नियंत्रण के ख़िलाफ़ बोलते थे और 2012 में एक किताब में उन्होंने कहा था कि उनका मानना है कि उनके सौतेले भाई में नेतृत्व क्षमता का अभाव है.


13 फरवरी 2017 को मलेशियाई हवाई अड्डे पर ज़ान दी होंग और सीती आइसा नामक दो महिलाओं ने कथित तौर पर वीएक्स नर्व रसायन से हमला करके किम जोंग-नम की जान ले ली थी.