अमेरिका के मिनेसोटा शहर में डेढ़ साल की बच्ची आईवी एंगरमैन को अपने ही आंसुओं और पसीने से एलर्जी है। उसके रोने के कुछ सेकेंड के अंदर ही उसके चेहरे पर छाले पड़ जाते हैं और गाल लाल हो जाता है। जांच में पता चला था कि बच्ची को एक्वाजेनिक आर्टीकारियल एलर्जी है। इस बीमारी के चलते आईवी को पानी से दूर रखा जाता है। यहां तक की पसीने से भी उसकी एलर्जी रिएक्शन शुरू हो जाता है। 


बच्ची की मां ब्रिटनी एंगरमैन कहती हैं कि, वह आईवी के शरीर को गीले कपड़े से पोंछ कर और कीटाणुनाशक से साफ करती हैं। क्योंकि नहलाना शुरू करने के 15 से बीस सेकेंड के अंदर ही आईवी चिल्लाना शुरू कर देती है। 


आईवी की एलर्जी कुछ मिनटों से लेकर घंटों तक चलती है, यह इस पर निर्भर करता है कि वह कितनी देर तक पानी में रहती है। विशेषज्ञों का कहना है कि दुनिया में सिर्फ 50 लोगों को यह बीमारी होती है।