अफरीदी का वो शानदार कैच

पाकिस्‍तान सुपर लीग (पीएसएल) का तीसरा सीजन शुरु हो गया है। शुक्रवार को कराची किंग्‍स और क्‍वेटा ग्‍लैडिएटर्स के बीच दूसरा मुकाबला खेला गया। इस मैच में कराची की टीम से खेल रहे शाहिद अफरीदी ने बाउंड्री लाइन पर इतना जबर्दस्‍त कैच पकड़ा कि हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है। अफरीदी ने छक्‍का जाती गेंद को एक हाथ से उछाल दिया और वापस आकर उसे पकड़ लिया। अफरीदी ने यह तब किया जब उनकी उम्र 37 साल हो चुकी है और वह इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं।

ये हैं दुनिया के 10 बेस्‍ट फील्‍डर्स :


एबी डिविलियर्स

क्रिकेट के शौकीन और एबी डिविलियर्स की टीम के खिलाफ खेलने वाले अच्‍छी तरह जानते हैं कि मैदान के उस क्षेत्र में शॉट लगाना खतरे से खाली नहीं है जहां डिविलियर्स खड़े हों। अगर एबी कीपिंग कर रहे हैं तो वो सेकेंड स्‍लिप तक छलांग लगा कर कैच पकड़ने की काबिलियत रखते हैं। विस्‍फोटक बल्‍लेबाज एबी बल्‍ले से ही नहीं बल्‍कि अपनी फील्‍डिंग से अपनी टीम के टारगेट को बड़ा कर देते हैं क्‍योंकि वे 15 से 20 रन तक बचा लेते हैं।

ड्वेन ब्रावो

वेस्‍ट इंडीज के ड्वेन ब्रावो के मुकाबले प्‍लेयर फिल्‍हाल तो कोई नहीं है। एक हाथ से कैच पकड़ने का हुनर रखने वाले ब्रावो शानदार ऑलराउंडर भी हैं। ब्रावो को अमेरिकन स्पोर्ट्स अवार्ड्स के लिए नॉमिनेट किया गया था।

सुरेश रैना

भारतीय टीम में सुरेश रैना ने क्षेत्ररक्षण को एक नया आयाम दिये हैं। उनकी हिरन की तेजी से गेंद पर झपटने की कला के सारी दुनिया में लोग कायल हैं। जितनी फुर्ती से वे विकटों के बीच दौड़ते हैं उतनी ही तेजी से वो मैदान पर भागती गेंदों को काबू करते हैं। क्रिकेट के शॉर्ट फॉरमेट के वे चैंपियन खिलाड़ी माने जाते हैं। 

कीरोन पोलार्ड

अगर बांउड़ी पर 6 फुट 6 इंच लंबे वेस्‍टइंडीज के खिलाड़ी कीरोन पोलार्ड फील्‍डिंग कर रहे हों तो कोई समझदार खिलाड़ी वहां छक्‍का मारने की गलती नहीं करेगा। असंभव से कैच पकड़ने की पोलार्ड में अद्भुत क्षमता है।

फॉफ डु प्‍लेसिस

दक्षिण अफ्रीका के फॉफ डु प्‍लेसिस भी इसी फेहरिस्‍त में शामिल है। दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेट की पहचान उसके फील्‍डर्स से ही इतनी ज्‍यादा क्‍यों है उसकी एक वजह डु प्‍लेसिस भी हैं।

स्‍टीव स्‍मिथ 

ऑस्‍ट्रेलिया के कप्‍तान स्‍टीव स्‍मिथ अपनी टीम के लिए आदर्श उदाहरण पेश करते हैं। वे ना सिर्फ विश्‍वसनीय बल्‍लेबाज हैं बल्‍कि शानदार फील्‍डर भी हैं। अभी खत्‍म हुए आइपीएल 10 में अपनी टीम को फाइनल तक ले जाने में स्‍मिथ की बड़ी भूमिका रही है। उनके कैचों को कई मैच में बेस्‍ट कैच में शामिल किया गया। 

रवींद्र जडेजा

टीम इंडिया में रवींद्र जडेजा को सर जडेजा का टाइटिल यूंही नहीं दिया गया। वे इस दौर के बेहतरीन ऑल राउंडर होने टाइटिल पाने के वाकई हकदार हैं, क्‍योंकि वे बेहतरीन बॉलिंग, बैटिंग के साथ साथ जबरदस्‍त फील्‍डिंग भी करते हैं।

अजिंक्‍य रहाणे

एक टेस्ट मैच में 8 कैच लपकने वाले इकलौते खिलाड़ी बने अजिंक्‍य रहाणे का ये कीर्तिमान ही इस बात का सबूत है कि वे कितने जबरदस्‍त फील्‍डर है। बेहतरीन बल्‍लेबाज होने के साथ अच्‍छा क्षेत्ररक्षण भी करते हैं।

ब्रैंडन मैक्कुलम

फील्‍डिंग के मामले में न्‍यूजीलैंड के पूर्व क्रिकेटर ब्रैंडन मैक्कुलम का नाम भी सम्‍मान से लिया जाता है। हालाकि अब वो अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट नहीं खेलते पर उन्‍होंने क्षेत्ररक्षण में स्‍तर का पैमाना काफी ऊंचा कर दिया है।

ग्लेन मैक्सवेल

आईपीएल 10 में पंजाब की टीम के कप्‍तान ग्लेन मैक्सवेल का नाम भी उनकी ऑफबीट बल्‍लेबाजी के अलावा जबरदस्‍त फील्‍डिंग के लिए भी सर्वश्रेष्‍ठ क्रिकेटरों में लिया जाता है।