कोलारस/मुंगावली। पिछले दो माह से शिवपुरी के कोलारस और अशोकनगर जिले के मुंगावली उपचुनाव को लेकर राजनैतिक हलचल जारी थी। शनिवार को मतदान के साथ ही यहां उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम में कैद हो गई। जानकारी के मुताबिक मुंगावली में 77.05 और कोलारस में 70.40 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया। हालांकि चुनाव आयोग से अधिकृत आंकड़े आना अभी बाकी है। छिटपुट घटनाओं को छोड़कर शेष मतदान शांतिपूर्ण सम्पन्न हुआ।


इन उपचुनाव में भाजपा और कांग्रेस के बड़े नेताओं की प्रतिष्ठा दांव पर होने के कारण दोनों ही पार्टियों ने यहां प्रचार के दौरान पूरी ताकत झोंक दी थी। राजनीति का अखाड़ा बन चुके कोलारस और मुंगावली उपचुनाव में जहां सत्तापक्ष भाजपा के लिए सीएम शिवराज सिंह और उनके मंत्री स्टार प्रचारक थे वहीं कांग्रेस की ओर से दोनों जगह सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कमान संभाल रखी थी।


कोलारस सीट कांग्रेस के विधायक रामसिंह यादव के निधन के कारण खाली हुई थी। मुख्य मुकाबला रामसिंह यादव के पुत्र महेंद्र यादव कांग्रेस और भाजपा के देवेंद्र जैन के बीच ही है। वहीं मुंगावली में विधायक देशराज सिंह यादव की मौत के बाद खाली हुई सीट पर भाजपा ने देशराज सिंह की पत्नी बाई साहब यादव को उतारा है वहीं कांग्रेस की ओर से बृजेंद्र सिंह उम्मीदवार हैं।


कोलारस उपचुनाव


कोलारस उपचुनाव के शनिवार को सुबह 8 बजे से मतदान शुरू हो गया है। कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच 311 पोलिंगों पर मतदान शुरू हुआ। सबसे पहले भाजपा प्रत्याशी देवेन्द्र जैन और उनकी पत्नी पदमा जैन ने कोलारस के वार्ड क्रमांक 14 में मतदान किया तो वहीं कांग्रेस प्रत्याशी महेन्द्र यादव ने भी अपने गृह ग्राम खतौरा में मतदान किया।


सुबह से ही कई स्थानों से ईवीएम मशीन खराब होने की सूचनाएं आने लगी थी। करीब 18 स्थानों पर ईवीएम मशीन में गड़बड़ी के चलते मतदान प्रभावित हुआ और कुछ देर बाद मशीनों को बदला गया जिसके बाद मतदान पुन: शुरू हुआ। जिन स्थानों पर मतदान प्रभावित हुआ उनमें सेसई, सींगाखेड़ी, जगतपुर की 42 नंबर पोलिंग, लुकवासा के 82 नंबर पोलिंग, तिलातिली की 157 नंबर पोलिंग, बदरवास की 141 पोलिंग सहित कुछ अन्य स्थानों पर मतदान ईवीएम मशीन खराब होने के चलते प्रभावित हुआ।

कांग्रेस व भाजपा प्रत्याशियों ने लगाए एक दूसरे पर आरोप 


मतदान करने के बाद कांग्रेस और भाजपा प्रत्याशी ने अपनी अपनी जीत के दावे पेश किए तो वहीं कांग्रेस प्रत्याशी महेन्द्र यादव का कहना है कि भाजपा धन बल के दम पर चुनाव को प्रभावित कर रही है तो भाजपा प्रत्याशी देवेन्द्र जैन का कहना है कि कांग्रेस के लोग गुंडागर्दी कर चुनाव को प्रभावित कर रहे हैं और कुछ अधिकारी कांग्रेस के दबाव में काम कर रहे हैं।


मतदाता पर्ची पर भाजपा प्रत्याशी की फोटो, कांग्रेस ने रूकवाया मतदान 


पुराने थाने के समीप कोलारस में कांग्रेसियों ने मतदान रूकवा दिया है। कांग्रेसियों का कहना है कि भाजपा प्रत्याशी आचार संहिता का खुला उल्लंघन कर चुनाव को प्रभावित कर रहे हैं। मतदाता पर्ची पर उनका फोटो और चुनाव चिन्ह हैं जबकि इस तरह की मतदाता पर्ची का उपयोग नहीं किया जा सकता है। कांग्रेसियों का कहना है कि इस मामले में कार्रवाई की जाए तब मतदान शुरू होने देंगे।


कहीं लंबी कतार तो कहीं इक्का दुक्का मतदाता 


मतदान केंद्रों पर कहीं कहीं तो महिला पुरुषों की लंबी कतार लगी हुई हैं तो कई मतदान केंद्रों पर मतदान की रफ्तार धीमी है। कहीं महिलाएं घूंघट में मतदान करती दिखी तो कई बुजुर्ग अपने नाती के साथ मतदान करने मतदान केंद्र पहुंचे। इतना ही नहीं दिव्यांग भी मतदान करने में पीछे नहीं रहे और वे मतदान केंद्रों पर मतदान करते देखे गए।


इन्होंने कहा 


- भारतीय जनता पार्टी निश्चित तौर पर चुनाव जीतेगी। जनता का समर्थन हमारे साथ है लेकिन बाहुबल के आधार पर चुनाव जीतना चाहते हैं लेकिन हम उनके मंसूबे कामयाब नहीं होने देंगे। अभी भी हमे जगह-जगह से गुंडगर्दी के खबरें हमें मिल रही हैं। कई जगह पर यह हमारे पोलिंग एजेंटों को बाहर निकाल दिया गया है। - देवेन्द्र जैन , भाजपा प्रत्याशी, (नईदुनिया से विशेष चर्चा)


- बीजेपी के विधायकों और मंत्रीगणों ने जगह-जगह दादागिरी शुरू कर दी है। यहां पर पिछले दो महीने से सरकार डेरा डाले हुए है। आज तक कोलारस में शांतिपूर्ण मतदान होता रहा है। लेकिन इस बार भाजपा के लोगों ने गड़बड़ की।- महेन्द्र यादव, कांग्रेस प्रत्याशी