छत्तीसगड़ में भिलाई (दुर्ग) शहर के नंदिनी माइंस टाउनशिप के डीएवी स्कूल में 11वीं कक्षा में पढ़ने वाली 16 वर्षीय छात्रा समीक्षा शास्त्री ने अपने ही स्कूल के प्राचार्या और उसकी पत्नी मीना मेडम जो उसी स्कूल में पीटी टीचर हैं, उन पर खुद को प्रताड़ित करने और जिंदगी बर्बाद करने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं.


आपको बता दें कि 10 दिन पहले छात्रा ने अपने लिखे सुसाइड नोट को पन्ने में दबाकर अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.


इधर, पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक छात्रा (मृतिका) के रीडिंग रूम से दो पन्ने का सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट में छात्रा ने स्कूल के प्राचार्य और उसकी पत्नी पर गंभीर आरोप लगाया है. जानकारी देते हुए मामले में ग्रामीण डीएसपी डी. आर. पोर्ते ने बताया कि छात्रा के कमरे से मिले सुसाइड नोट ने कई सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं.

छत्तीसगड़ में भिलाई (दुर्ग) शहर के नंदिनी माइंस टाउनशिप के डीएवी स्कूल में 11वीं कक्षा में पढ़ने वाली 16 वर्षीय छात्रा समीक्षा शास्त्री ने अपने ही स्कूल के प्राचार्या और उसकी पत्नी मीना मेडम जो उसी स्कूल में पीटी टीचर हैं, उन पर खुद को प्रताड़ित करने और जिंदगी बर्बाद करने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं.


आपको बता दें कि 10 दिन पहले छात्रा ने अपने लिखे सुसाइड नोट को पन्ने में दबाकर अपने ही घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी.


इधर, पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक छात्रा (मृतिका) के रीडिंग रूम से दो पन्ने का सुसाइड नोट मिला है. सुसाइड नोट में छात्रा ने स्कूल के प्राचार्य और उसकी पत्नी पर गंभीर आरोप लगाया है. जानकारी देते हुए मामले में ग्रामीण डीएसपी डी. आर. पोर्ते ने बताया कि छात्रा के कमरे से मिले सुसाइड नोट ने कई सवालिया निशान खड़े कर दिए हैं.

जानकारी के मुताबिक छात्रा स्कूल में पढ़ाई में होनहार होने के साथ साथ स्कूल के समस्त गतिविधियों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेती थी.