भोपाल । प्राइवेट इंग्लिश मीडियम स्कूल की तर्ज पर अब प्रदेश के सरकारी स्कूलों के 9वीं से 12वीं तक के छात्र-छात्राएं ऑडियो-वीडियो के माध्यम से अंग्रेजी बोलना सीखेंगे। इसके लिए सरकारी स्कूलों में स्पोकन इंग्लिश की क्लासेस जुलाई से शुरू होगी। क्लासेस अप्रैल 2018 से 2022 तक के लिए ब्रिटिश काउंसिल व स्कूल शिक्षा विभाग की ओर चलाई जाएगी। इसके लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) की ओर से सभी जिले के लिए मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके बाद यही मास्टर ट्रेनर जिले में जाकर वहां के शिक्षकों को अंग्रेजी बोलने का प्रशिक्षण देंगे।


अप्रैल से मास्टर ट्रेनर तैयार किए जाएंगे


माशिमं की ओर से अप्रैल से मास्टर ट्रेनर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। साल में दो बार छह-छह दिन की इनकी ट्रेनिंग होगी। इसके बाद मास्टर ट्रेनर जिले के अंग्रेजी भाषा के शिक्षकों को ट्रेनिंग देंगे।


सप्ताह में दो दिन लगेगी क्लासेस


जुलाई से सभी सरकारी स्कूलों में सप्ताह में दो दिन की स्पेशल स्पोकन इंग्लिश की क्लासेस लगेगी। जिसमें एक-एक घंटे की क्लासेस में ऑडियो, वीडियो, ग्रुप डिस्क्शन के माध्यम से अग्रेजी बोलना सीखाया जाएगा। ताकि विद्यार्थी कॉम्पीटेटिव परीक्षा के लिए तैयार हो सके।


इनका कहना है


तैयारियां पूरी हो गई है। अप्रैल से बोर्ड की ओर से मास्टर ट्रेनर को ट्रेनिंग दी जाएगी। जिससे वे सभी जिलों के अंग्रेजी शिक्षकों को प्रशिक्षण दे सकें। इससे कॉम्पीटेटिव की तैयारी करने वाले विद्यार्थियों को फायदा मिलेगा - हेमंत शर्मा, डायरेक्टर, माशिमं